दुनिया की सबसे बुजुर्ग महिला “फ्रांसिस्का” का 124 साल की उम्र में हुआ निधन…

0

पहल गुप्ता,नई दिल्ली: विश्व की सबसे बूढ़ी महिला जिसका नाम फ्रांसिस्को सुसानो था।हाल ही में 124 साल की उम्र में उनका स्वर्गवास हो गया। लोला के नाम से मशहूर फ्रांसिस्का सुसनो का सोमवार को शाम करीब 6:45 बजे नेग्रोस ऑक्सिडेंटल प्रांत के कबानकला के उनके घर पर निधन हो गया।उनका जन्म 19वी सदी में हुआ था।

लोला का जन्म 11 सितंबर,1897 को हुआ था।जब फिलिपिंस पर स्पेन का शासन था और ग्रेट ब्रिटेन को क्वीन विक्टोरिया संभाल रही थी। उसी सन में आइसक्रीम स्कूप का आविष्कार किया गया था और मारकोनी ने समुद्र के पार पहली बार रेडियो प्रसारण भेजा था।19वी सदी की जन्मी लोला को गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड अभी भी दुनिया की सबसे ज्यादा उम्रदराज महिला घोषित करने के लिए सितंबर तक ऐज वेरिफिकेशन कर रही थी।इससे पहले ये टाइटल फ्रांसीसी महिला जीन कैलमेट को मिला था,जिनका 1997 मे 122 वर्ष की उम्र में देहांत हो गया।

शहर के जन सूचना अधिकारी जैक कार्लिक गोजलेस के अनुसार ,लोला की मौत का कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है,लेकिन उनमें कोविड के कोई भी लक्षण नहीं दिखाई दिए थे।उनकी रिपोर्ट के हिसाब से उनकी सेहत और लंबी उम्र का राज उनकी हेल्थी डाइट थी।वह ज्यादातर सब्जियों का सेवन करती थी और मीट का इस्तेमाल अपने भोजन में बिलकुल नहीं करती थी।लोला के अनुसार उनकी उम्र का राज अल्कोहल फ्री जीवन भी था।स्थानीय व्यक्तियों का कहना है की लोला सबसे अधिक उम्रदराज महिला थी जबकि विशेषज्ञों का कहना है की एक व्यक्ति का जीवन काल 130 वर्ष तक का हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here