"World Lazy Day" ​​नाम की स्थापना 1984 में एक प्रतीक के रूप में की गई थी, राष्ट्रीय आलसी दिवस की उत्पत्ति अज्ञात है लेकिन इस दिन आधुनिक दुनिया को आराम की आवश्यकता है इस दैड़ती-भागति व्यस्त दुनिया मे हमें अपने आप को आराम देने और अच्छे मनोरंजन का आनंद लेना कि जरुरत है। यह त्योहार आधिकारिक तौर पर 1989 में स्थानीय और राष्ट्रीय स्तर पर बड़ी सफलता के साथ बनाया गया।


Lazy Day एक छुट्टी है जो 10 अगस्त को संयुक्त राज्य अमेरिका और अन्य विदेशों में भी मनाया जाता है। यह लोगों के लिए अपने दैनिक कामों और काम से छुट्टी लेने और बिना कुछ किए दिन बिताने का दिन माना जाता है। 
आपसे इस दिन कुछ भी करने की अपेक्षा नहीं की जाती है - इस दिन को मनाने कि जरुरत भी नहीं। इस दिन को अपने पायजामा पैंट पर छोड़ दें, अपने आप को अपने टीवी के सामने या अपने धर के सामने वाले बरामदे के पार्क मे चिल करें , और सुनिश्चित करें कि आपको इस छुट्टी पर कुछ भी पूरा नहीं करना है। आखिरकार, इसे मनाने का यही एकमात्र तरीका है।

Laziness के फायदें :-
जब कोई व्यक्ति काम कर रहा होता है तो उसका दिमाग काम को हल करने में लगा रहता है। यह कल्पनाशील, रचनात्मक विचार के लिए मस्तिष्क को पूरी काम नहीं करने देता लेकिन जब मस्तिष्क विश्राम में होता है तब ही मस्तिष्क की अद्भुत कल्पना  करने कि शक्ति को बड़ा देता हैे। आलस्य के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि आपको बर्नआउट का अनुभव होने की संभावना कम होती है। आलसी होने से शरीर ताज़ा करना होता है बर्नआउट से अनिद्रा, अवसाद और पुरानी थकान हो सकती है।





Leave a comment

Your email address will not be published.