UTTAR PRADESH: एसोसिएट प्रोफेसरों का होगा प्रमोशन, जल्द बनेंगे प्रोफ़ेसर!

उप मुख्यमंत्री द्वारा बताया कि ये व्यवस्था ना होने के कारण राज्य के शिक्षक इसकी तुलना जम्मू–कश्मीर की धारा 37

0

मिशिता शंकर, नई दिल्ली। यूपी के एसोसिएट प्रोफेसरों को एक बड़ी खुशखबरी मिली है। प्रदेश की सरकार ने ये ऐलान किया है कि अब डिग्री कॉलेजों के लगभग 4000 से भी ज्यादा एसोसिएट प्रोफेसरों की पदोन्नति की जाएगी। आपको बता दें इस व्यवस्था से लगभग 500 राजकीय और अशासकीय सहायताप्राप्त महाविद्यालय को लाभ मिलेगा।

दरअसल, उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि हायर एजुकेशन में शिक्षक समुदाय में ये मांग लंबे समय से की जा रही थी जिसे सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुरा किया है। उन्होंने कहा कि, “राज्य में ये व्यवस्था ना होने की वजह से शिक्षक दूसरे राज्य प्रोमोशन के लिए जाने लगें थे।”

उप मुख्यमंत्री द्वारा बताया कि ये व्यवस्था ना होने के कारण राज्य के शिक्षक इसकी तुलना जम्मू–कश्मीर की धारा 370 से करते थे। जब इस व्यवस्था का ऐलान हुआ तो शिक्षक काफ़ी खुश नज़र आए। वहीं शिक्षक समुदाय के कई लोगों ने कहा कि ऐसा लग रहा की मानो धारा 370 हट गया हो।

आपको बता दें कि 2017 से पहले यूपी को केंद्र की ओर से शिक्षा विभाग में C ग्रेड मिला थे। जबकि 2021 में केंद्र की ओर से यूपी को A ग्रेड मिला है। इसी के साथ राज्य में 12 नए विश्वविद्यालय, 77 डिग्री कॉलेज और 250 नए माध्यमिक स्कूल खोले जाने की बात चल रही है। हाल ही में प्रधान मंत्री द्वारा 9 मैडिकल कॉलेजों का उदघाटन भी किया गया था। ये मेडिकल कॉलेजों 9 जिलों में खोले गए हैं। जिसमें देवरिया, एटा, फतेहपुर, गाजीपुर, हरदोई, जौनपुर, मिर्जापुर, प्रतापगढ़ और सिद्धार्थ नगर के नाम शामिल हैं। मार्च 2017 से पहले यूपी में केवल 12 मेडिकल कॉलेज थे। अब प्रदेश में मेडिकल कॉलेजों की कुल संख्या 48 हो गई है।

ये भी पढ़े: KHEL RATNA AWARD 2021: जानिए इस साल किन-किन खिलाड़ियों को मिलेगा “खेल रत्न पुरस्कार”…

ये भी पढ़े: KNOW ABOUT THE TOP 5 ALCOHOL BRANDS OF INDIA…

ये भी पढ़े: DIWALI 2021: जानिए क्या है दिवाली के पांच दिनों का महत्व एवं इतिहास?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here