सामाचार नगरी (WHO):ऑक्सफोर्ड की एस्ट्राजेनेका वैक्सीन (Oxford-AstraZeneca Vaccine) को लेकर यूरोप के चार देशों में  हंगामा मचा है. फ्रांस, स्पेन, इटली और जर्मनी ने इसके इस्तेमाल पर फिलहाल रोक लगा दी है. इनका कहना है कि वैक्सीन के इस्तेमाल से लोग ब्लड क्लॉटिंग की शिकायत कर रहे हैं. इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इन देशों से अपील की है कि वो वैक्सीन के इस्तेमाल पर रोक न लगाएं. WHO के मुताबिक ये वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है. इससे कोई खतरा नहीं है.

साथ ही आपको बता दें कि WHO के प्रवक्ता क्रिश्चन लिंडिमायर का कहना है कि उनकी टीम वैक्सीन को लेकर मिले शिकायत की जांच कर रही है. साथ ही उन्होंनें ये भी कहा कि फिलहास ऐसा कोई प्रमाण नहीं मिला है जिससे ये कहा जाय कि ऑक्सफोर्ड की एस्ट्राजेनेका वैक्सीन सुरक्षित नहीं है. इस बीच ब्रिटेन ने भी कहा है कि वैक्सीन से ब्लड क्लॉटिंग की कोई शिकायत नहीं मिली है. वैक्सीन को लेकर मंगलवार को WHO की बैठक भी होगी.

ऐसा नहीं है की यूरोप को सिर्फ एस्ट्राजेनेका वैक्सीन से ही ब्लड क्लॉटिंग की रिपोर्ट आई है, ब्लकि कई दशों से वैक्सीन लेने के बाद ब्लड क्लॉटिंग की रिपोर्ट आई है. लेकिन एक्सपर्ट का कहना है कि फिलहाल वैक्सीन को ब्लड क्लॉटिंग से जोड़ कर नहीं देखा जाना चाहिए. यूरोपिय संघ के देश और ब्रिटेन में अब तक करीब 17 लाख लोगों को वैक्सीन की डोज़ दी गई है. इनमें से सिर्फ 40 ऐसे केस आए हैं जहां लोगों ने ब्लड क्लॉटिंग की शिकायक की है. क्यों कि सिर्फ 40 लोगों को ब्लड क्लॉटिंग की शिकायत है, इसलिए एक्सपर्ट का कहना है की अभी वैक्सीन को ब्लड क्लॉटिंग से ना जोड़े.

Leave a comment

Your email address will not be published.