Emergency Alert: क्या आपका स्मार्टफोन भी अचानक से बजने लगा? क्या है इमरजेंसी अलर्ट की सच्चाई, जानें

Emergency Aleart

Wireless Emergency Alert: क्या आपके साथ भी ऐसा हुआ कि अचानक से आपका फोन बजने लगा और इमरजेंसी अलर्ट का एक मैसेज आने लगा और आप घबरा गए, कि अरे! यह मेरे स्मार्टफोन में क्या हो रहा है। ऐसा आज सुबह से कई स्मार्टफोन यूजर्स के साथ हो रहा है और उनको लग रहा है कि कहीं उनके साथ किसी भी तरह का स्कैम ना हो गया हो। लेकिन घबराने की कोई बात नहीं है दरअसल यह सरकार द्वारा भेजा गया “Emergency Alert: Severe” इमरजेंसी मैसेज अलर्ट है।

जानकारी के लिए आपको बता दें भारत सरकार द्वारा 20 जुलाई से कई यूजर्स के फोन पर इमरजेंसी अलर्ट की टेस्टिंग की जा रही है। स्मार्टफोन यूजर्स को ये मैसेज को दूरसंचार विभाग की तरफ से भेजा जा रहा है।

ये भी पढ़े: WhatsApp: Meta ने व्हाट्सएप यूजर्स को दिया सरप्राइज, यूजर्स सीधे सेलिब्रिटी से कर सकेंगे बात

आप सोच रहे होंगे कि, आखिरकार ऐसी क्या इमरजेंसी आ पड़ी की सरकार को इस तरह की टेस्टिंग करने की जरूरत पड़ रही है, और दूरसंचार विभाग हमारे स्मार्टफोन पर इस तरह के अलर्ट के मैसेज भेज रहा है। तो चलिए इसके बारे में हम आपको पूरी जानकारी देते हैं।

क्या है मैसेज में?

पहले हम आपको बताते हैं कि सरकार की तरफ से भेजे जा रहे इस मैसेज में लिखा क्या है। स्मार्टफोन पर भेजे गए मैसेज के अनुसार,” यह भारत सरकार के दूरसंचार विभाग द्वारा सेल ब्रॉडकास्टिंग सिस्टम के माध्यम से भेजा गया एक नमूना परीक्षण संदेश है। कृपया इस संदेश पर ध्यान न दें, क्योंकि इस पर आपकी तरफ से किसी कार्रवाई की आवश्यकता नहीं है। यह संदेश राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण द्वारा कार्यान्वित किए जा रहे अखिल भारतीय आपात अलर्ट सिस्टम को जांचने हेतु भेजा गया है। इस सिस्टम का उद्देश्य सार्वजनिक सुरक्षा बढ़ाना और आपात स्थिति के दौरान समय पर अलर्ट प्रदान करना है।”

क्या है वायरलेस इमरजेंसी अलर्ट?

सबसे पहले आपको बता देते हैं कि वायरलेस इमरजेंसी अलर्ट है क्या ? दरअसल, सरकार एक इमरजेंसी अलर्ट सिस्टम पर काफी लंबे समय से काम कर रही है, ताकि बाढ़, सुनामी, तूफान या किसी अन्य प्राकृतिक आपदा जैसी आपात स्थिति में देशभर में लोगों को तुरंत अलर्ट किया जा सके यानी कि उन्हें इमरजेंसी की नोटिफिकेशन दी जा सके कि हां कोई आपदा आ गई है। इमरजेंसी अलर्ट से लोगों को पहले से या आपदा के दौरान होने वाली घटना के बारे में सचेत कर दिया जाएगा। जिससे लोगों की जान बचाने में मदद मिलेगी।

LATEST POSTS:-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *