उत्तराखंड के चमोली में हुए हादसे में बहुत लोग घायल हुए कुछ की मौतें भी हुए, जिनमें से बताया जा रहा है कि टिहरी जिले के आलम सिंह पुंडीर की मौत हो गई. जिस समय ये त्रासदी (Incident) आई, तब आलम एक टनल में ही काम कर रहे थे. उनके निधन से पूरा परिवार बेबस है और बिना सहारे के रह गया है. मुश्किल कितनी भी बड़ी क्यों ना हो, संकट कितना भी क्यों ना गहरा जाए, एक्टर सोनू सूद लोगों को उम्मीद का दामन नहीं छोड़ने देते हैं. कोरोना काल में अपनी मदद से कई लोगों की जिंदगी संवारने वाले सोनू अब चमोली त्रासदी में भी एक सक्रिय भूमिका निभाने जा रहे हैं. एक्टर ने बड़ा कदम उठाते हुए चार बेटियों को गोद लेने का फैसला किया.

ख़बरों के मुताबिक बताया जा रहा है कि चमोली हादसे में टिहरी जिले के आलम सिंह पुंडीर की मौत हो गई. जिस समय ये हादसा हुई, तब आलम एक टनल में ही काम कर रहे थे. वे पेशे से एक इलेक्ट्रीशियन बताए गए हैं. उनके निधन से पूरा परिवार बेबस और बिना सहारे के रह गया है. आलम की चार बेटियां भी हैं जो अपने पिता के जाने से बुरी तरह टूट गई  हैं अब सोनू सूद की तरफ से इन बेटियों को नया भविष्य देने की तैयारी है. एक्टर की टीम ने बताया है कि सोनू इस परिवार की चारों बेटियों को गोद लेना चाहते हैं. वे उनकी पढ़ाई से लेकर शादी तक हर खर्चा उठाने को तैयार हैं

सोनू सूद ने इस बारे में एक न्यूज पोर्टल से बात भी की है. एक्टर ने कहा है- ये हर नागरिक की जिम्मेदारी है कि वो इस मुश्किल समय में आगे आकर मदद का हाथ बढाए. जिन भी लोगों को इस आपदा की वजह से बर्बादी झेलनी पड़ी है, उन सभी की हर संभव मदद की जाए. एक्टर की तरफ से उठाए जा रहे इस नए कदम की काफी तारीफ की जा रही है. सभी को उम्मीद है कि सोनू का ये कदम पीड़ित परिवार के दुख कुछ कम करने वाला साबित होगा. ऐसा नहीं है कि सोनू सूद लोगों की पहली बार मदद कर रहे हैं.  जब से Cornoa काल में उन्होंने लोगों की मदद कि तब से लोग उन्हें भगवान की तरह मानते हैं.

Leave a comment

Your email address will not be published.