ROHTAK: दरिंदगी की हदे पार, पिता ने अपनी ही कम-अक्ल बेटी के साथ किया दुष्कर्म!

0
rohtak case
rohtak case

कशिश पांडे,नई दिल्ली: हरियाणा (Haryana) के रोहतक जिले (Rohtak District) से एक चौका देने वाला मामला सामने आया है। जहां पुलिस ने मासूमियत को शर्मसार करने के कारण, एक पिता को गिरफ्तार किया है। आपको बता दें उस पिता पर ये आरोप है कि उसने अपनी कम-अक्ल बेटी के साथ बलात्कार किया है। इस मामले का खुलासा तब हुआ जब पीड़िता 4 माह की गर्भवती हो गई थी।

जानकारी के अनुसार पीड़िता बेटी की पीजीआई अस्पताल (PGI Hospital) में जांच चल रही थी। जिसमें एक डीएनए टेस्ट (DNA Test) करवाया गया था। बताया जा रहा है कि फिलहाल पीड़िता को महिला आश्रम भेज दिया है। आपको बता दें पुलिस द्वारा जानकारी के मुताबिक आरोपी पिता मजदूरी करता है। उसी से ही आज तक उनका घर चलता आया है।

जानें क्या है पूरा मामला?
इंस्पेक्टर राजेंद्र सिंह (Inspector Rajendra Singh) ने बताया कि आरोपी और उसका परिवार सांपला थाना क्षेत्र (Sampla) में रहते हैं। 8 फरवरी 2021 को अचानक तबीयत बिगड़ने के कारण आरोपी अपनी बेटी को पीजीआई अस्पताल ले गया था। जहां जांच के बाद डॉक्टरों को ये पता चला कि पीड़िता 4 माह से गर्भवती थी। जिसके बाद कानूनी सलाह ली गई और डॉक्टरों ने लड़की का गर्भपात किया। अस्पताल ने पुलिस को इस बात की जानकारी दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने दुष्कर्म का मामला दर्ज किया। जिसके बाद इस पूरे मामले की जांच शुरू की गई थी।

आरोपी ने इस कारण से दर्ज कराई थी शिकायत:
10 फरवरी, 2021 को आरोपी पिता ने शिकायत की थी कि उसकी पत्नी का देहांत हो चुका है। जिसके बाद उसका बेटा उसे छोड़कर चला गया है। पुलिस ने ये मामला दर्ज किया और बेटे की तलाशी शुरू की थो। जांच के दौरान पुलिस को आरोपी के  घर पर 30 साल कम-अक्ल बेटी मिली थी।

जांच में पुलिस को कोई खास सुराग नहीं मिला था। लड़की के पिता पर शक करते हुए, पुलिस ने उसे लेकर जांच शुरू की। जिसके बाद पीड़िता, पीड़िता के पिता व भ्रूण का डीएनए टेस्ट करवाया गया। जिस टेस्ट में ये पता चला कि लड़की का किसी और ने नहीं बल्कि खुद उसके पिता ने उसका दुष्कर्म किया था। जिसके बाद पुलिस ने पिता के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

सांपला थाना प्रभारी इंस्पेक्टर राजेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपी और उसका परिवार थाना क्षेत्र में रहते हैं। 10 फरवरी 2021 को आरोपी शिकायत करता है उसकी पत्नी का देहांत हो चुका है और उसकी बेटा उसे छोड़कर चला गया है, पुलिस के तलाशी के बाद घर पर 30 वर्षीय कम-अक्ल बेटी मिली।

स्वास्थ्य संबंधी दिक्कत के चलते वह अपनी बेटी को 8 फरवरी को पीजीआई ले गया था, जहां डॉक्टरों ने बताया की पीड़िता 4 माह से गर्भवती थी। कानूनी सलाह के बाद डॉक्टरों ने लड़की का गर्भपात करवाया। पुलिस ने दुष्कर्म का मामला दर्ज किया और इसकी जांच की।

पुलिस को जब वारदात का कोई सुराग नहीं मिला तो लड़की के पिता पर ही शक हुआ, जिसके बाद उससे जांच में शामिल किया गया। जांच में लड़की, लड़की के पिता व भ्रूण का डीएनए टेस्ट करवाया गया जिसमें खुलासा हुआ की लड़की से और किसी ने नहीं बल्कि उससे के पिता नहीं दुष्कर्म किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here