Marriage Astrology: अगर शादी में आ रही है अड़चन तो बुधवार को करें यह उपाय, होगी जट मंगनी पट शादी

Marriage Astrology: सनातन धर्म में ज्योतिष एक महत्वपूर्ण अंग है और मंगल ग्रह को ग्रहों का मुख्य कहा जाता है। मंगल एक उग्र ग्रह होने के साथ-साथ वृश्चिक और मेष राशि के स्वामी होता है। विवाह से पहले कुंडली में मंगल की स्थिति देखना जरूरी माना जाता है। अगर किसी की कुंडली में मंगल लग्न, चतुर्थ, सप्तम, अष्टम और द्वादश भाव में से किसी भी भाव में होता है तो उसे मंगल दोष या मांगलिक दोष कहा जाता है। इसके अलावा मांगलिक दोष को तीन लग्न के चंद्र लग्न, सूर्य लग्न और शुक्र से भी देखा जाता है। मांगलिक दोष वैवाहिक जीवन में परेशानी लाने की संभावना होती है, इसलिए लोग इसे दूर करने के उपाय करते हैं। वैवाहिक जीवन में मंगल दोष को दूर करने के कुछ ज्योतिष उपाय निम्नलिखित हैं:

READ MORE: Bhojpuri Cinema: अक्षरा सिंह के बाद अब इस भोजपुरी एक्ट्रेस का MMS हुआ लीक, फोटो देख फैन्स ने बताया प्रेग्नेंट!!

  1. मंगल मंत्र का जाप करें: मंगल मंत्र का जाप करने से मंगल दोष का प्रभाव कम हो सकता है।
  2. मंगल रत्न धारण करें: मंगल दोष को दूर करने के लिए मंगल रत्न धारण किया जा सकता है। मंगल रत्न में मूंगा शामिल होता है जो मंगल ग्रह के लिए बहुत उपयोगी होता है।
  3. मंगल दोष निवारण पूजा करें: मंगल दोष को निवारण करने के लिए एक विशेष पूजा की जा सकती है जो मंगल देवता के लिए होती है।
  4. दान करें: अगर कोई व्यक्ति मंगल दोष से पीड़ित है, तो उसे गोमूत्र, मूंग दान या अन्य दान करने की सलाह दी जाती है।
  5. नवग्रह शांति उपाय: मंगल दोष को दूर करने के लिए नवग्रह शांति उपाय भी किए जा सकते हैं जो सूर्य, चंद्रमा, मंगल, बुध, गुरु, शुक्र, शनि, राहु और केतु को संतुलित करते हैं।
  6. मंगल की दिनचर्या करें – रोजाना मंगल के उपासना करने से मांगलिक दोष कम हो सकता है।
  7. मंगल स्तोत्र का पाठ करें – मंगल स्तोत्र के पाठ से मांगलिक दोष कम हो सकता है।

यदि कोई युवती मांगलिक दोष से पीड़ित है, तो वह निम्नलिखित उपायों को अपना सकती है:

मंगल दोष निवारण के लिए अगर आपकी कुंडली में मंगल ग्रह है, तो आप शाम के समय थोड़े से चन्दन का प्रयोग कर सकती हैं। इसके लिए चन्दन के टुकड़े को पानी में भिगोएं और उस पानी को अपने सिर पर लगाएं। इससे मंगल दोष निवारण होता है।

मंगल दोष निवारण के लिए आप शाम के समय गोमेद धारण कर सकती हैं। इससे भी मंगल दोष निवारण होता है।

LATEST POSTS:

पूजा कांजानी ने बैचलर ऑफ़ मास कम्युनिकेशन की पढाई कम्पलीट करने के बाद साल 2019 में उन्होंने डिजिटल मीडिया से अपने करियर की शुरुआत की। उसके बाद उन्होंने एक बड़े मीडिया हाउस में बतौर टीवी ऐंकर भी कार्य किया है। इन 3 वर्षों के करियर में ऑटो-गैजेट्स, लाइफस्टाइल, धार्मिक, फीचर्स तथा राजनीति पर न्यूज़ आर्टिकल लेख लिख चुकी हैं। जनवरी 2023 से बतौर कंटेंट राइटर के तौर पे समाचार नगरी में कार्यरत है.