Shani Gochar: शनि के बुरे प्रकोप से बिगड़ सकती है इन राशि वालों की ज़िन्दगी

कर्मफल दाता और न्यायकर्ता शनि को धार्मिक और ज्योतिषीय दृष्टिकोण से सबसे क्रूर ग्रहों में से एक माना जाता है। वह व्यक्ति को उसके कर्मों के हिसाब से शुभ या फिर अशुभ फल देते हैं। शनि धनु और मकर राशि के स्थानों पर अपना उच्च और नीच स्थान रखता है इसलिए इन राशियों में शनि का असर अधिक होता है। शनि की चाल 2.5 साल का एक अवधि में एक राशि से दूसरी राशि में होती है जिसे साढ़े साती कहा जाता है। साढ़े साती के दौरान, ज्योतिषीय दृष्टिकोण से शनि का असर बहुत अधिक होता है और व्यक्ति को कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

कुंभ राशि में शनि के गोचर से शनि की टेढ़ी चाल कुछ राशियों को प्रभावित कर रही है। निम्नलिखित राशियों को शनि की टेढ़ी चाल से प्रभावित होने की संभावना होती है:

कुंभ (Aquarius) – शनि कुंभ राशि में होने से शनि की टेढ़ी चाल इस राशि के जातकों के लिए एक बड़ी समस्या होती है। इस अवधि में उन्हें अस्थमा, श्वसन तंत्र के रोग, नसों के दर्द, शरीर के अंगों में सूजन और दर्द, शरीर के अंगों के कमजोर होने जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

वृषभ (Taurus) – शनि के गोचर से वृषभ राशि के जातकों को आर्थिक समस्याएं हो सकती हैं। इस अवधि में उन्हें काम के मामलों में अनुभव करने के लिए कठिनाईयों का सामना करना पड़ सकता है।

सिंह (Leo) – शनि के गोचर से सिंह राशि के जातकों को शारीरिक समस्याएं हो सकती हैं। इस अवधि में उन्हें शरीर के रोग और अन्य समस्याएं हो सकती हैं।

धनु राशि वालों के लिए भी शनि की टेढ़ी नज़र चल रही है। इसलिए ये जातकों के लिए आर्थिक मामलों में थोड़ा सावधान रहना जरूरी होगा। आर्थिक स्थिति में गिरावट का सामना करना पड़ सकता है। ये लोग किसी भी काम में ज्यादा मेहनत करते हुए भी आगे नहीं बढ़ पाएंगे। वे कामयाबी के लिए ज्यादा मेहनत करने की जगह थोड़ी बुद्धि लगाकर काम करने की कोशिश करें।

शनि के कुंभ राशि में होने से मकर राशि वालों को शनि की टेढ़ी नज़र का सामना करना पड़ रहा है। इन जातकों के लिए अपने स्वास्थ्य को लेकर सतर्क रहना होगा। वे भी आर्थिक मामलों में कुछ मुश्किलों का सामना कर सकते हैं। इससे उनका मानसिक स्वास्थ्य भी प्रभावित हो सकता है। लेकिन ये लोग अपने मकसदों को हासिल करने के लिए मेहनत करते रहेंगे।

शनि की टेढ़ी नजर कर्क राशि के जातकों को भी प्रभावित कर रही है। इन लोगों के लिए शनि की टेढ़ी नज़र से शारीरिक समस्याएं आ सकती हैं।

LATEST POSTS :

पूजा कांजानी ने बैचलर ऑफ़ मास कम्युनिकेशन की पढाई कम्पलीट करने के बाद साल 2019 में उन्होंने डिजिटल मीडिया से अपने करियर की शुरुआत की। उसके बाद उन्होंने एक बड़े मीडिया हाउस में बतौर टीवी ऐंकर भी कार्य किया है। इन 3 वर्षों के करियर में ऑटो-गैजेट्स, लाइफस्टाइल, धार्मिक, फीचर्स तथा राजनीति पर न्यूज़ आर्टिकल लेख लिख चुकी हैं। जनवरी 2023 से बतौर कंटेंट राइटर के तौर पे समाचार नगरी में कार्यरत है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *