अक्षय तृतीया (Akshaya Tritya) एक धार्मिक त्योहार होता है जो हिंदू धर्म में मनाया जाता है। इस दिन कुछ विशेष चीजें घर में लाई जाती हैं, जिन्हें धन, समृद्धि, सुख और समृद्ध वैवाहिक जीवन के लिए शुभ कहा जाता हैं। इस दिन धन, सोना, चांदी आदि की खरीद करना बेहद शुभ माना जाता है। साथ ही घर की सफाई भी की जाती है ताकि शुभता का माहौल बना रहे।

इस दिन कुछ ऐसी चीजें भी होती हैं जिन्हें घर से निकालना शुभ माना जाता है। इनमें से कुछ चीजें हैं जैसे कि काटा, कंघी आदि को घर में रखने से मां लक्ष्मी का आशीर्वाद नहीं मिलता है और घर का धन बहुत जल्दी खत्म हो जाता है।

READ MORE: Vastu Tips for Positivity: सास-बहू के क्लेश को खत्म करेंगे यह वास्तु टिप्स, बढ़ने लगेगा प्यार

झाड़ू को लेकर यह कुछ नियम हैं जो शास्त्रों में बताए गए हैं, जैसे कि झाड़ू को हॉल मे नहीं रखना चाहिए, पूजा के बाद झाड़ू नहीं लगाना चाहिए। इसके अलावा, झाड़ू को व्यापार में नहीं लाना चाहिए।

अक्षय तृतीया के दिन टूटी झाड़ू न रखना एक नियम है। इसका पालन करने से आपके घर में लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है। इस दिन जो भी काम शुरू किया जाता है, उससे अनंत समृद्धि की प्राप्ति होती है। इसलिए अक्षय तृतीया के दिन अपने घर को सफाई के लिए झाड़ू से साफ कर सकते हैं, लेकिन टूटी झाड़ू घर में न रखें।

यह सही है कि फटे-कटे जूते और चप्पलों के रखने से घर में लक्ष्मी का वास नहीं होता है इससे धन की कमी होती है। इसलिए अक्षय तृतीया के दिन यह अच्छा विकल्प होता है कि ऐसे जूते-चप्पलों को घर से बाहर निकाल फेंका जाए। इस तरह से अपने घर में धन की वृद्धि होती है और मां लक्ष्मी द्वार तक के वास से बचा रहता है।

मां लक्ष्मी को साफ-सफाई बेहद पसंद होती है इसलिए घर में स्वच्छता का पूरा ध्यान रखना चाहिए। इसके अलावा, अक्षय तृतीया के दिन धन का भी दान करना चाहिए। यह धन किसी भी रूप में हो सकता है, जैसे दान या अन्नदान। इस दिन खुद को धनवान बनाने के लिए धन का उपयोग नहीं करना चाहिए, बल्कि उसे दूसरों की मदद के लिए खर्च करना चाहिए।

LATEST POSTS:

पूजा कांजानी ने बैचलर ऑफ़ मास कम्युनिकेशन की पढाई कम्पलीट करने के बाद साल 2019 में उन्होंने डिजिटल मीडिया से अपने करियर की शुरुआत की। उसके बाद उन्होंने एक बड़े मीडिया हाउस में बतौर टीवी ऐंकर भी कार्य...