PUNJAB ELECTIONS 2022: “चन्नी इस्तीफा दे”, मोदी के दौरे रद्द पर बीजेपी का रहा मांग!

0
Pm Modi Security

नई दिल्ली: चुनावों के कारण सभी सियासी पार्टियां रैलियां निकालने में जुटी है। जहां एक तरफ बयानबाजी चल रही है, तो दूसरी तरफ सीधा निशाना साधा जा रहा है। हाल ही में बीजेपी (BJP) ने चुनाव प्रदेशों में जाकर कई रैलियां की। जिसका अहम मुद्दा किसी ना किसी परियोजना का शिलान्यास या उद्घाटन करना था। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बाद मणिपुर (Manipur) और अब पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) पंजाब (Punjab) के दौरे पर हैं।

आपको बता दें, फिरोजपुर (Firozpur) में उन्हें 42,750 करोड़ों रुपयों से ज्यादा की परियोजनाओं का शिलान्यास करना था। जिसमें मेडिकल कॉलेज शामिल है। लेकिन शायद पंजाब के किसान लेकिन ऐसा नहीं चाहते। आपको बता दें, आज पीएम नरेंद्र मोदी की रैली रद्द हो गई थी। किसानों के प्रदर्शन के कारण उनके काफिले को करीबन 15 से 20 मिनट इंतजार करना पड़ा था।

जानिए क्या है पूरा मामला?

गृह मंत्रालय के बयान के अनुसार प्रधानमंत्री सुबह भटिंडा (Bathinda) पहुंच चुके थे। जिसके बाद उन्हें हेलीकॉप्टर से हुसैनीवाला (Hussainiwala) में स्थित राष्ट्रीय शहीद स्मारक (National Martyrs Memorial) में हाजिरी लगानी थी। लेकिन खराब मौसम के चलते पीएम ने 20 मिनट इंतजार किया।

इंतजार के बाद भी मौसम साफ नहीं हुआ। जिस कारण से नरेंद्र मोदी ने सड़क मार्ग से वहां पहुंचने का निर्णय लिया। अब इस यात्रा में करीबन 2 घंटे का समय लगना था। जिसके बारे में पंजाब पुलिस को पूर्व जानकारी दी गई थी और साथ ही डीजीपी (DGP) से जरूरी सुरक्षा का आश्वासन लिया गया था।

प्रदर्शन के दौरान चलाया मोदी का पुतला:

आपको बता दें, पीएम मोदी का काफिला स्मारक से करीबन 30 किलोमीटर की दूरी पर था। तब किसान मजदूर संघर्ष समिति के किसानों ने गुरदासपुर नेशनल हाईवे (Gurdaspur National Highway) पर प्रदर्शन कर, उसे जाम कर दिया था।

उसी स्थान के बब्बरी मोड़ (Babbri Mor) पर उपस्थित किसानों ने ये बताया है कि जब तक उनकी मांगों को पूरा नहीं किया जाएगा, तब तक किसान भारतीय जनता पार्टी की सभी रैलियों का विरोध करते रहेंगे। आपको बता दें, किसानों ने कहा था कि ब्लॉक स्तर पर पीएम का पुतला भी जलाया जाएगा।

गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार पर लगाया आरोप:

प्रधानमंत्री मोदी के काफिले में रुकावट के कारण गृहमंत्री ने पंजाब सरकार पर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा राज्य सरकार को पीएम के दौरे का प्लान बताया गया था। जिसके बाद उन्हें सभी सुविधाओं का पूर्व ध्यान रखना चाहिए था। प्लान में तत्कालीन बदलाव होने के बाद पंजाब सरकार को सड़क मार्ग पर पुलिस बल तैनात करने चाहिए थे। लेकिन ऐसा कहीं देखने को नहीं मिला था।

दौरा रद्द होने के बाद, काफिले को एयरपोर्ट ले जाया गया:

गृह मंत्रालय द्वारा ये कहा गया है कि ये सुरक्षा में एक बड़ी चूक है। आपको बता दें इसके बाद पीएम मोदी का दौरा रद्द कर दिया गया था। जिस कारण से पीएम मोदी के काफिले को बठिंडा एयरपोर्ट (Bathinda Airport) ले जाया गया था।

गृह मंत्रालय ने मांगा चन्नी का इस्तीफा:

गृह मंत्रालय ने पंजाब सरकार से इस मामले की विस्तार रिपोर्ट मांगी है और उनसे कहा है कि इस पर कड़ा एक्शन लेना चाहिए। बीजेपी ने पीएम का दौरा रद्द होने के बाद, सीएम चरणजीत सिंह चन्नी (CM Charanjit Singh Channi) का इस्तीफा मांगा है।

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष ने दिया ये बयान:

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अश्विनी शर्मा (Ashwani Sharma) ने इस मामले को गंभीर बताते हुए एक ट्वीट किया है कि, “जो सरकार पंजाब में कानून-व्यवस्था नहीं बना सकती, उसे एक मिनट के लिए भी पंजाब पर शासन करने का अधिकार नहीं है। सरकारें आती-जाती रहती हैं, लेकिन देश का संविधान कायम रहना चाहिए।”

इससे पूर्व उन्होंने कहा था कि नरेंद्र मोदी जनता को परियोजनाएं देना चाहते थे। लेकिन उन्हें ऐसा नहीं करने दिया। पीएम को सही सुरक्षा ना देने के कारण सीएम चन्नी को इस्तीफा दे देना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here