सामाचार नगरी(बिहार): बिहार के सुपौल जिले के राघोपुर थाना क्षेत्र में आर्थिक तंगी से परेशान एक परिवार के 5 लोगों ने आत्महत्या कर ली. माता-पिता और 3 बच्चों की सामूहिक खुदकुशी की खबर सामने आते ही आसपास के लोग हैरान रह गए. मामला राघोपुर थाने के गद्दी गांव के वार्ड 12 का है. स्थानीय लोगों ने बताया कि पिछले शनिवार तक इस परिवार के लोगों को देखा गया था, मगर उसके बाद से घर के किसी सदस्य को लोगों ने नहीं देखा. आज अचानक परिवार के सभी लोगों के फांसी लगाकर जान देने की घटना के सामने आने के बाद लोग हैरान हैं. इधर, 5 लोगों की मौत की खबर सामने आने के बाद पुलिस को जानकारी दी गई. जब पुलिस वहां पहुंची तो देखा पांच लोगों के शब फंदे से लटका हुआ है.

राघोपुर थाना क्षेत्र के गद्दी गांव के मिश्रीलाल साह के परिवार के पांचों सदस्यों के एक साथ खुदकुशी करने से आसपास के इलाके के लोग भी सकते में हैं. पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है. जिले के एसपी मनोज कुमार ने घटनास्थल पर पहुंचने के बाद एफएसएल की टीम को भी बुलाया है. पुलिस अधिकारी के मुताबिक एफएसएल की टीम की जांच के बाद घटना के बारे में विस्तार से जानकारी मिल सकेगी. प्रशासन भी एक परिवार के 5 लोगों की आत्महत्या करने की घटना से हैरान है. एसपी ने कहा कि विस्तृत छानबीन के बाद ही मामले की हकीकत सामने आ पाएगी. अभी पूर्ण तरह से आत्महत्या की वजह पता नहीं चला है.

गांव के लोगों ने मृतक मिश्रीलाल साह और उसके परिवार के बारे में बताया कि पिछले 2 साल से यह परिवार कोयला बेचकर गुजारा कर रहा था. आर्थिक तंगी की वजह से मिश्रीलाल साह ने अपनी पुश्तैनी जमीन भी बेच दी थी. लोगों ने बताया कि हाल में कुछ दिनों यह परिवार ग्रामीणों से अलग-थलग रहने लगे थे. इस वजह से लोगों ने उनकी खोज-खबर लेनी छोड़ दी थी. किसी को ये नहीं पता था कि वो ख़ुदखुशी कर लेगा वो भी बच्चों के साथ.

Leave a comment

Your email address will not be published.