Lal Bahadur Shastri Death Anniversary : जानिए कैसे हुई शास्त्री जी की रहस्यमई मृत्यु

0
Lal Bahadur Shastri Death Anniversary
Lal Bahadur Shastri Death Anniversary

शामभवी शाही, नई दिल्ली: Lal Bahadur Shastri Death Anniversary लाल बहादुर शास्त्री जी एक ऐसी हस्ती हैं जिनका नाम सुनते ही आंखों के सामने एक हसमुख, विनम्र, दूरदर्शी और महान छवि प्रकट होती है। शास्त्री जी देश के प्रधानमंत्री तो थे ही साथ ही वह एक स्वाभिमानी व्यक्ति थे। देश के प्रधानमंत्री जैसे बड़े औदे पर रहने के बावजूद उन्होंने किसी भी सुविधा का उपयोग नहीं किया और एक बेहद सादा जीवन व्यतीत किया। ऐसे सादा जीवन उच्च विचार वाले व्यक्ति की मृत्यु लोगों के लिए खास तौर पर भारतीयों के लिए एक बहुत बड़े झटके के समान था। शास्त्री जी की मौत एक रहस्यमई तरीके से हुई जिसके बार में लोग आज भी चर्चा करते हैं मगर जिसका सच किसी को ढंग से नहीं पता।

यह भी पढ़ें: Orissa : CM पटनायक ने किया कई सारी परियोजनाओं का शुभआरंभ, 3,000 से ज्यादा लोगो को मिलेगा रोजगार…

Lal Bahadur Shastri Death Anniversary : 11 जनवरी 1966 को भारत-पाकिस्तान समझौते के दौरान जब शास्त्री जी ताशकेंत (उज़्बेकिस्तान) गए थे उसी दौरान उनकी अकस्मात और रहस्यमई तारीक से मृत्यु को ख़बर आई जिसको सुनकर भारत में हलचल सी मच गई थी। देश के दूसरे प्रधानमंत्री की ऐसी अकस्मात मृत्यु ने सबको दहला कर रख दिया था। तहकीकात पर मृत्यु के कारण को हार्ट अटैक बताया गया था।

ताशकेंत समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद, 10 जनवरी को शाम लगभग 4 बजे, शास्त्री जी रूस में प्रदान किए गए विला में पहुंचे। शाम को उन्होंने मॉस्को में भारतीय राजदूत TN Kaul के निजी रसोइए जान मोहम्मद द्वारा तैयार किया गया खाना खाया। उसी विला में उनकी सेवा में अन्य रूसी बटलर भी थे। रात 11.30 बजे के आसपास शास्त्री जी ने रूसी एंबेसडर के रसोइए द्वारा लाया गया एक गिलास दूध पिया था। और जब उनके निजी स्टाफ उनके पास थे तब तक वह ठीक थे लेकिन 11 जनवरी की सुबह करीब 1.25 बजे शास्त्री जी की नींद खुल गई और उन्हें तेज खांसी हुई। वह जिस कमरे में थे, उसमें न तो फोन था और न ही इंटरकॉम। इसलिए वह अपने स्टाफ को अपने निजी डॉक्टर RN Chugh को सूचित करने के लिए कहा। जब तक डॉक्टर chugh पहुंचे तब तक शास्त्री जी की मौत हो चुकी थी। लक्षण दिल के दौरे के बताए गए थे।

यह भी पढ़ें: NEET 2021 : जानिए कब होगा NEET 2021 UG काउंसलिंग 2021 की तारीख का ऐलान.

शास्त्री जी बेशक आज इस दुनिया में नहीं हैं लेकिन उनकी दूरदर्शी विचारधारा और विनम्र चेहरा भारतीयों के दिलों में सदा-सदा के लिए जीवित रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here