नई दिल्ली:- तालिबान का अफगानिस्तान पर कब्जा होने के बाद, अफगानिस्तान गहरे राजनीतिक संकटों से घिर गया है। चारों तरफ अफरातफरी मची हुई है, सामने आ रही तस्वीरें लोगों की हालात और उनके दर्द को साफ़ बयां करती हैं। 16 अगस्त को आपने देखा होगा कि किस तरह देश से बाहर निकलने के लिए काबुल एयरपोर्ट पर लोगों का जमावड़ा टूट पड़ा था। लोग जान की बाजी लगाते हुए रनवे पर दौड़कर अमेरिकी विमान पर चढ़ने की कोशिश करते नज़र आये।


खबरों के मुताबिक कुछ लोग विमान के पहियों के लिए बनी जगहों पर जैसे तैसे बैठकर उड़े। लेकिन आसमान में पहुंचते ही नीचे गिर गए। सूत्रों के हिसाब से तीन अफगानियों की मौत हो गई। और अबको बता दें एयरपोर्ट पर इतनी भीड़ जमा हो गई थी कि कमर्शियल उड़ानें बंद कर दी गई थीं। सिर्फ मिलिट्री और स्पेशल विमानों को ही उड़ने की इजाजत दी जा रही है। काबुल एयरपोर्ट पर 16 अगस्त को इतनी भीड़ जमा हो गई थी कि अमेरिकी सैनिकों को हवाई फायरिंग करने की जरूरत पड़ गई थी। इसी दौरान एयरपोर्ट पर 5 लोगों की मौत भी हो गई थी।

यह भी पढ़ें- AFGHANISTAN UPDATES: अफगान लड़की ने खोली तालिबान की पोल.. बताया ये घिनोना सच!


अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद तमाम देश अपने नागरिकों को वहां से निकालने के लिए अभियान चला रहा हैं।बता दें भारत ने भी काबुल में एंबेसी स्टाफ और अन्य लोगों को देश वापस लाने के लिए विमान भेजे हैं। भारतीय वायु सेना का एक C-17 विमान काबुल से लोगों को लेकर मंगलवार 17 अगस्त को गुजरात के जामनगर में उतरा।


इसके अलावा आपको बता दें, ई वीजा का नया सिस्टम भी शुरू किया गया है। इसका नाम है e-Emergency X-Misc Visa. खबरों के मुताबिक इसमें अफगान नागरिक भी ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं। भारतीय विदेश मंत्रालय (MEA) ने एक विशेष अफगानिस्तान (Afghanistan) सेल की स्थापना भी की है। ईमेल भी MEAHelpdeskIndia@gmail.com भी जारी किए गए हैं। लोग इन पर मदद की गुहार लगा सकते हैं।

यह भी देखें-

https://youtu.be/Z-FyBMOJbnY

Leave a comment

Your email address will not be published.