TALIBAN: खौफ और खराब आर्थिक स्थिति के बाद 79% पत्रकारों ने खोई अपनी नौकरी

0
AFGHANISTAN JOURNALIST
AFGHANISTAN JOURNALIST

योगिता लढ़ा, नई दिल्ली। AFGHANISTAN: तालिबान (Taliban) आने के बाद हर वर्ग, हर पेशे वाले लोगों को दिक़्क़तों का सामना करना पड़ रहा है। एक सर्वे के दौरान ये पता चला है कि पत्रकारों को ख़ास तौर पर खराब आर्थिक स्थिति का सामना करना पड़ रहा है। आपको बता दें, अफगानिस्तान (Afghanistan) के पत्रकार फाउंडेशन ने कहा कि देश में मीडियाकर्मी सबसे खराब आर्थिक स्थिति से गुजर रहे हैं क्योंकि उनमें से 79% ने अपनी नौकरी खो दी है। पत्रकारिता छोड़ने को बाद, पैसा कमाने और जीवित रहने के लिए सभी पत्रकारों ने अन्य व्यवसायों का सहारा लेना शुरू कर दिया है। 

आपको बता दें, फाउंडेशन ने पिछले 1.5 महीने में स्थानिय पत्रकारों के जीवन पर स्टडी की है और जिसके बाद ये पता चला है कि पत्रकार ख़राब आर्थिक स्थिति की वजह से सबसे दुर्भाग्यपूर्ण जीवन जी रहे हैं। इससे पहले, आंकड़े बताते हैं कि अफगानिस्तान में 75% तक मीडिया आर्थिक संकट के कारण बंद हो गया है, रिपोर्ट में कहा गया है।

कुल 462 पत्रकारों ने लिया सर्वे में हिस्सा:

सर्वे में फाउंडेशन के निष्कर्ष बताते हैं कि 91% अफगान पत्रकार अपने नए पेशे को चुनने के बाद खुश हैं जबकि केवल 8% ही खुश नहीं हैं। आपको बता दें मिली हुई जानकारी के मुताबिक़, पूरे अफगानिस्तान में कुल 462 अफगान पत्रकारों ने सर्वेक्षण में हिस्सा लिया, और उनमें से 390 पुरुष और 72 महिलाएं थीं।

AFGHANISTAN JOURNALIST
AFGHANISTAN JOURNALIST

अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को फाउंडेशन द्वारा किया गया आग्रह:

फाउंडेशन ने अफगानिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय समुदाय और Taliban सरकार से पत्रकारों की आर्थिक स्थिति का समाधान करने का आह्वान किया लेकिन फ़िलहाल किसी भी तरफ़ से मदद नहीं मिल पाई है। 

ये भी पढ़े: AFGHANISTAN: आखिर तालिबान में “सर वाले पुतले” क्यों हैं “गैर इस्लामी”?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here