Covid-19 Relief News for patient: देश कि जनता कोविड-19 (Covid-19) का इलाज भली-भांति करा सके इसके लिए सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (Public Service Bank) द्वारा 5 लाख रुपये तक का प्रसनल लोन प्रदान किया जाएगा। कोरोनावायरस महामारी की दूसरी लहर के मद्देनजर यह फैसला लिया गया और इसकी घोषणा भारतीय स्टेट बैंक (SBI) और भारतीय बैंक संघ (IBA) द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में की गई।

एक संयुक्त बयान में कहा गया है कि पीएसबी वेतनभोगी (PSB salaried) , गैर-वेतनभोगी (Non-salaried) और पेंशनभोगियों (Pensioners) को कोविड के इलाज (Covid treatment) के लिए 25,000 रुपये से 5 लाख रुपये तक का असुरक्षित व्यक्तिगत ऋण (Unsecured personal loan) प्रदान करेगा। इसमें आगे कहा गया कि राज्य के स्वामित्व वाले बैंक संशोधित ईसीजीएलएस मानदंडों (Revised ECGLS Norms) के तहत ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित करने के लिए स्वास्थ्य सेवा व्यवसाय ऋण प्रदान करेंगे। वित्त मंत्रालय द्वारा भी इसी दिन घोषणा की गई थी कि ईसीएलजीएस 4.0 (ECGLS 4.0) के तहत, 2 करोड़ रुपये तक के ऋण के लिए 100 प्रतिशत गारंटी दी जाएगी। इन ऋणों के लिये ब्याज दर की सीमा 7.5 प्रतिशत तय की गई है। यानी बैंक इस सीमा से कम दर पर कर्ज दे सकते हैं।

इनके द्वारा हेल्थकेयर सुविधाओं के लिए 100 करोड़ रुपये तक के बिजनेस लोन की पेशकश की जाएगी ताकि हेल्थकेयर इंफ्रास्ट्रक्चर (Healthcare infrastructure) और हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स (healthcare products) के विनिर्माण केंद्र को स्थापित किया जा सके। अगर आगे ऐसी कोई महामारी आए तो हम उसके लिए पहले से ही तैयार रहें। हेल्थकेयर पर अधिक ध्यान देनें को कहीं है सरकार।

Leave a comment

Your email address will not be published.