Health Tips कैंसर का नाम सुनते ही दिल बहुत घबरा जाता है। मुझे नहीं पता कि मेरे दिमाग में विचार कैसे आने लगते हैं। चूंकि यह एक लाइलाज बीमारी है, इसलिए व्यक्ति बहुत जल्दी हार मान लेता है। जैसे-जैसे बीमारी बढ़ती है, रोगी जीने की इच्छा खो देता है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि हमारे आस-पास इतने सारे लोग आज कल कैंसर से पीड़ित क्यों हैं?

जब से हमने समझना शुरू किया, हमने केवल मलेरिया, पीलिया, हार्ट अटैक जैसी बीमारियों के बारे में ही सुना था। कैंसर को हमेशा से एक ऐसी बीमारी माना जाता था, जो इतने लोगों में से कुछ ही लोगों को होती है। लेकिन क्या सच में आज कैंसर के मामलों में अचानक वृद्धि हो रही है या यह बेहतर निदान की उपलब्धता के कारण हो रहा है।

आंकड़े बताते हैं कि पिछले कुछ सालों में भारत में कैंसर से होने वाली मौतों में इजाफा हुआ है. लेकिन हमारे सामान्य शरीर में कैंसर कोशिकाएं कैसे सक्रिय होती हैं, शरीर में अचानक कैंसर क्यों निकलता है, इसका कारण जानना बहुत जरूरी है।

यह भी पढ़ें: Mental Health Tips: पूरा दिन थका हुआ करते हैं महसूस तो हो सकते हैं ये बड़े कारण आज ही छोड़ दें ये काम

Health Tips: कैंसर के कारण

कैंसर के आंतरिक कारणों में आनुवंशिक उत्परिवर्तन, हार्मोन, प्रतिरक्षा की स्थिति, अधिक सक्रियता और बाहरी कारकों में धूम्रपान, शराब का सेवन, वायरल संक्रमण शामिल हैं। ये सभी कारक अकेले या एक दूसरे के साथ मिलकर एक सामान्य कोशिका को गंभीर बना सकते हैं।

आपकी उम्र

कैंसर को विकसित होने में सालों लग सकते हैं। इसलिए आपने देखा होगा कि कैंसर से पीड़ित ज्यादातर लोगों की उम्र 65 साल या इससे ज्यादा होती है। यह बुजुर्ग लोगों में आम है। कैंसर केवल वयस्कों की बीमारी नहीं है। इसका निदान किसी भी उम्र में किया जा सकता है।

Health Tips:बुरी आदतें

कुछ जीवनशैली की आदतों को कैंसर के खतरे को बढ़ाने के लिए जिम्मेदार माना गया है। एक दिन में एक या एक से अधिक पेय का सेवन, सूर्य के प्रकाश के अत्यधिक संपर्क में आना, मोटापा बढ़ना और असुरक्षित यौन संबंध कैंसर के खतरे को बढ़ा सकते हैं।

परिवार का इतिहास

पारिवारिक इतिहास कैंसर का एक छोटा सा हिस्सा विरासत में मिली स्थिति के कारण होता है। अगर आपके परिवार में कैंसर आम है, तो अगली पीढ़ी को भी इसका खतरा है। ध्यान रखें कि आनुवंशिक उत्परिवर्तन होने का मतलब यह नहीं है कि आपको कैंसर हो जाएगा।

चिकित्सा हालत

अल्सरेटिव कोलाइटिस जैसी कुछ पुरानी बीमारियां आपके कैंसर के विकास के जोखिम को बढ़ा सकती हैं। अगर आप इन बीमारियों से पीड़ित हैं तो सतर्क हो जाएं और कोई भी लक्षण दिखने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

Health Tips: वातावरण

आपके आस-पास के वातावरण में हानिकारक रसायन हो सकते हैं, जो आपके कैंसर के खतरे को बढ़ाने के लिए जिम्मेदार हैं। भले ही आप धूम्रपान नहीं करते हैं, लेकिन आप ऐसी जगह बैठे हैं जहां लोग धूम्रपान करते हैं, इससे भी कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

यह भी पढ़ें: Dental Home Remedies: दांतों में है झनझनाहट की समस्या से हैं परेशान तो अपनाएं ये घरेलू उपाय

Disclaimer:

सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या डॉक्टर से सलाह लें। समाचार नगरी इस जानकारी की जिम्मेदारी नहीं लेता है।