Coronavirus Vaccination: पहले महाराष्ट्र में वैक्सीन की कमी थी अब पंजाब और राजस्थान में भी. इसलिए, पंजाब और राजस्थान ने केंद्र सरकार से कोरोना वायरस वैक्सीन (Coronavirus) की कमी को लेकर अपनी चिंताएं जाहिर की हैं, और अब इस लिस्ट में पंजाब का भी नाम जुड़ गया है. पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने कहा है कि राज्य के पास सिर्फ 5 दिनों का वैक्सीन स्टॉक पड़ा है. राज्य के लक्ष्य के मुताबिक हर दिन 2 लाख खुराक दी जाती है तो मौजूदा स्टॉक सिर्फ तीन दिन का बचा है. अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार से वैक्सीन की अगली खेप जल्द भेजने का आग्रह किया है. बता दें कि देश में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के चलते पिछले 24 घंटे में 1.45 लाख से ज्यादा केस सामने आए हैं. संक्रमण इतनी तेजी से फैल रहा है कि स्वास्थ्य व्यवस्था (Health System) पर संकट मंडराने लगा है. राज्यों में वैक्सीन की भी कमी पर रही है.

पंजाब के मुख्यमंत्री के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा है कि राज्य में सिर्फ 48 घंटे के लिए वैक्सीन की खुराक बची है, गहलोत ने केंद्र सरकार से तुरंत वैक्सीन की 30 लाख डोज की मांग की है. अमरिंदर सिंह ने शनिवार की सुबह एक बयान जारी करते हुए कहा कि पंजाब के पास सिर्फ 5 दिनों की सप्लाई बची हुई है. राज्य में हर दिन 85 हजार से 1 लाख लोगों को टीका लगाया जा रहा है. उम्मीद है कि केंद्र सरकार जल्द ही वैक्सीन की सप्लाई सुनिश्चित करेगी. अगर राज्य टीकाकरण के प्रतिदिन के मौजूदा लक्ष्य 2 लाख टीकों की खुराक को हासिल करता है, तो मौजूदा स्टॉक सिर्फ तीन दिन चलेगा. फिर ऐसे में लोगों में अफरा-तफरी मच जाएगी. वैक्सीन एक सहारे के तौर पर काम कर रही है.

आपको बता दें की वहीं, राजस्‍थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने पत्र में लिखा, “हम पहले से टीकाकरण के लक्ष्य को प्रतिदिन 5 लाख करना चाहते हैं, राजस्थान में वैक्सीन की मौजूदा भंडार क्षमता अगले दो दिनों में खत्म हो जाएगी. इसलिए केंद्र सरकार से रिक्वेस्ट है कि वैक्सीन की खुराक जल्द से जल्द भेजें.” अमरिंदर सिंह ने अपने पत्र में केंद्र सरकार द्वारा राज्य में कम टीकाकरण होने की बात पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ये किसान कानून के मुद्दे पर केंद्र सरकार के खिलाफ राज्य की जनता में व्याप्त आक्रोश के चलते ऐसा हुआ है. इसी वजह से वैक्सीन अभी तक चल रहा है.

अमरिंदर सिंह और अशोक गहलोत ने शनिवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बात की और कांग्रेस शासित दोनों राज्यों में कोरोना से जुड़े हालात पर अपनी बात रखी और पार्टी नेतृत्व को अवगत कराया. और साथ ही वैक्सीन को लेकर भी चर्चा हुई.

Leave a comment

Your email address will not be published.