Assam: अज्ञात बंदूकधारियों ने आत्मसमर्पण करने वाले आतंकवादी को मारी गोली

आतंकवादी एक कैडर था लेकिन आपको बता दें, मृत आतंकवादी ने साल 2021 में आत्मसमर्पण कर दिया था। 

1
EX-MILITANT SHOT DEAD IN ASSAM
EX-MILITANT SHOT DEAD IN ASSAM

योगिता लढ़ा, नई दिल्ली। ASSAM: मंगलवार को असम-मणिपुर सीमा (Assam-Manipur border) से एक बार फिर से हत्या का मामले सामने आया है। दरअसल, ये ख़बर है कछार जिले (Cachar district) के चमटीला गांव (Chamtila village) की। बताया जा रहा है कि अज्ञात बंदूकधारियों ने एक आतंकवादी को मार गिराया है। आतंकवादी एक कैडर था लेकिन आपको बता दें, मृत आतंकवादी ने साल 2021 में आत्मसमर्पण कर दिया था। 

मौक़े पर पहुंचे कछार के जिला पुलिस अधीक्षक रमनदीप कौर (Ramandeep Kaur) ने बताया है कि अपराधियों को पकड़ने के लिए एक तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। ये अभियान सीमावर्ती गांव में किया जा रहा है लेकिन अभी तक कुछ ज्ञात नहीं हो पाया है। ग्रामीणों के द्वारा पुलिस को बताया गया था कि हथियारबंद हमलावर मणिपुर से आए थे और 37 वर्षीय डेविड रोंगमाई (David Rongmai) को उनके घर से घसीट कर ले गए। 

जिसके बाद पड़ोसी राज्य में भागने से पहले उसे गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया था। आपको बता दें, रोंगमाई उग्रवादी संगठन नगा नेशनल काउंसिल (Naga National Council) का कैडर था और उसने पिछले साल पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया था। घटना के बाद, असम पुलिस ने मणिपुर पुलिस को मामले के जानकारी दी है। 

ये भी पढ़े: TALIBAN: खौफ और खराब आर्थिक स्थिति के बाद 79% पत्रकारों ने खोई अपनी नौकरी

14 दिसंबर को भी हुई, ऐसी ही घटना:

एक और ऐसी ही घटना नगालिम (Nagalim) से आई थी। जहां, इसाक-मुइवा गुट के नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल के 10 कार्यकर्ताओं ने उसी जिले के रानी कॉलोनी (Rani Colony) में एक युवक को गोली मार दी थी। इसका कारण ये था कि ग्रामीणों ने आतंकवादियों को आवास और अन्य सुविधाएं प्रदान करने से इनकार कर दिया था।

आपको बता दें, पहले के मामले में भी, नेशनलिस्ट सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालैंड– आईएम (NSCN IM) के उग्रवादी मणिपुर से आए थे, जो असम के साथ 200 किलोमीटर से अधिक की सीमा साझा करता है।

ये भी पढ़े: Ananya Panday के नई फोटो को देखकर खुद को नहीं रोक पाए शाहिद कपूर, किया ऐसा कि..

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here