TMKOC की बबीता ज़ी पर हांसी थाने में FIR दर्ज, सारी धाराएं बिना जमानत वालें हैं, जाने पुरी ख़बर

0
TKMOC Babita J

Samachar Nagari: लाखों लोगों का पसंदीदा टीवी कॉमेडी सीरिल तारक मेहता का उल्टा चश्मा (Tarak Meheta ka Oalta Chashma) की बबीता जी यानी अभिनेत्री मुनमुन दत्ता (Munmun Dutta) के खिलाफ नेशनल अलायंस फॉर दलित ह्यूमन राइट्स (National Alliance for Dalit Human Rights) के संयोजक रजत कलसन की शिकायत पर हांसी की पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है. यह एफआईआर आईपीसी की विभिन्‍न धाराओं में दर्ज की गई है. इसमें अनुसूचित जाति व जनजाति अत्याचार अधिनियम भी शामिल है. और भा कई धाराए शामिल हैं.

आपको यह भी जानकारी दे दें कि जिन धाराओं में मुनमुन दत्ता के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है यह सारी धाराएं गैर जमानती हैं तथा इन धाराओं में आगे जमानत का प्रावधान भी नहीं है. लिहाजा यह मुकदमा दर्ज होने के चलते मुनमुन दत्ता उर्फ बबीता जी मुसीबतों में फंसती नजर आ रही हैं. मामला यह है कि तारक मेहता का उल्टा चश्मा की अभिनेत्री मुनमुन दत्ता उर्फ बबीता जी ने इंस्टाग्राम के एक वल्गर सोसाइटी (Vulgar Society) नाम के चैनल पर एक वीडियो डाला था जिसमें उन्‍होंने कहा था कि उन्हें यूट्यूब पर आना है और वे अच्छा दिखना चाहती हैं. फिर उसी विडियो ने उन्हें फसा दिया.

इस कैस में फसने का कारण यह था कि उन्‍होंने उस विडियो में आपत्तिजनक शब्‍द इस्‍तेमाल किए थे. यह कहकर मुनमुन दत्ता ने अनुसूचित जाति समाज के खिलाफ एक अपमानजनक टिप्पणी कर दी जिसको लेकर नेशनल अलायंस फ़ॉर दलित हृयूमन राइट्स के संयोजक रजत कलसन ने 11 मई को हांसी की पुलिस अधीक्षक को एक लिखित शिकायत व आरोपी मुनमुन दत्ता की वीडियो वाली सीडी प्रस्तुत की थी जिस पर हांसी की पुलिस अधीक्षक निकिता गहलोत ने थाना शहर हांसी को एफआइआर दर्ज करने के आदेश दे दिए. जिसके बाद थाना शहर हांसी में मुनमुन दत्ता के खिलाफ औपचारिक एफआईआर दर्ज कर ली गई.
कुछ इस तरह से ही युवराज सिंह ने भी इंस्टाग्राम पर दलित समाज के खिलाफ एक अभद्र टिप्पणी कर दी थी जिसके बाद हांसी के थाना शहर में ही उनके खिलाफ एक मुकदमा दर्ज हुआ था जिसमें गिरफ्तारी से बचने के लिए युवराज सिंह ने हाईकोर्ट का रुख किया है. वे भी अनुसूचित जाति समाज पर टिप्पणी करने के चलते कानूनी पचड़े में फंसे हुए हैं तथा उन पर भी गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है. अब बबीता जी यानी कि मुनमुन दत्ता के ख़िलाफ भी यहीं मुकदम्मा दर्ज किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here