Samachar Nagari (Bengal):केंद्रीय गृहमंत्री (Home minister) अमित शाह की झाड़ग्राम रैली रद्द हो गई है. उसी पर तृणमूल कांग्रेस के सांसद ‘अभिषेक बनर्जी’ ने तंज कसते हुए सोमवार को कहा कि वरिष्ठ बीजेपी नेता की रैली से अधिक लोग तो ‘जेसीबी से की जानेवाली खुदाई’ को देखने या किसी दुकान पर चाय की चुस्की लेने के लिए एकत्र हो जाते हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी जब उत्तर प्रदेश, गुजरात या असम जैसे अपने शासन वाले राज्यों को स्वर्णिम राज्य में तब्दील नहीं कर पाई तो वह पश्चिम बंगाल को ‘सोनार बांग्ला’ बनाने का वायदा कैसे पूरा कर सकती है. क्या बीजेपी गाय के दूध से सोना निकालकर ‘सोनार बांग्ला’ बनाने की योजना बना रही है.

अभिषेक बनर्जी डायमंड हार्बर से सांसद हैं. अभिषेक ने कहा, ‘ऐसा प्रतीत होता है कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की निर्धारित झाड़ग्राम रैली कुछ तकनीकी कारणों से रद्द हो गई. रैली की जो तस्वीरें मुझे मिलीं, उसमें बहुत कम लोग दिखते हैं. बीजेपी नेता की रैली में मौजूद लोगों से अधिक लोग तो अर्थमूवर की खुदाई को देखने या किसी गांव में दुकान पर चाय की चुस्की लेने के लिए जुट जाते हैं.’ गृहमंत्री जी तो भाषण में ही नहीं आए.

साथ ही उन्होंने पश्चिमी मेदिनीपुर जिले के चंद्राकोना में एक रैली में कहा, ‘‘दूसरी तरफ, तृणमूल कांग्रेस की रैलियों में लोगों की व्यापक भागीदारी से संकेत मिलता है कि पार्टी दो मई को 250 से अधिक सीट जीतकर सत्ता में लौटेगी.” शाह पश्चिमी मेदिनीपुर में बीजेपी उम्मीदवारों के लिए प्रचार कर रहे हैं.

आपको ये भी बता दें कि अभिषेक ने दांतन में एक अन्य रैली में कहा, ‘जब सोनार यूपी नहीं बना, सोनार असम या सोनार गुजरात नहीं बना तो बीजेपी सोनार बांग्ला का वायदा कैसे पूरा कर सकती है? ऐसा लगता है कि दिलीप घोष (प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष) गाय के दूध से सोना निकालकर सोनार बांग्ला बनाएंगे. ये सब कहते हुए अभिषेक बनर्जी ने खूब तंज कसा.

Leave a comment

Your email address will not be published.