UP ELECTION 2022: नवरात्र से नवंबर तक, योगी का चलेगा ये अनोखा खेल!

भाजपा ने भी ऐसा ही कुछ करने का सोचा है। योगी आदित्यनाथ यहां के मुख्यमंत्री हैं और 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले उन्होंने यहां पर खेल खेलना शुरू कर दिया है।

0

योगिता लढ़ा, नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की राजनीति पूरे भारत की राजधानी में सबसे ज्यादा अहमियत रखती है। यूपी में सबसे अधिक विधानसभा सीट है। इसी कारण सारी पार्टियां आम आदमी को अपने पक्ष में करने के लिए जी तोड़ मेहनत करती है। पार्टिया नई नई योजनाएं निकालती है और रेलिया, संबोधन करती है, जिससे वह एक एक वोट को अपने नाम कर सके। भाजपा ने भी ऐसा ही कुछ करने का सोचा है। योगी आदित्यनाथ यहां के मुख्यमंत्री हैं और 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले उन्होंने यहां पर खेल खेलना शुरू कर दिया है।

दरअसल यूपी में भाजपा सरकार ने कुल 200 सम्मेलन करने का निर्णय लिया है। यह सम्मेलन अक्टूबर में शुरू होकर नवंबर अंत तक चलने वाले हैं। इन सम्मेलन में सबसे अधिक ध्यान छोटी-छोटी जातियों पर दिया जाएगा। इन जातियों का पूरे यूपी में तो नहीं लेकिन कुछ ऐसे विधानसभा क्षेत्र है, जहां पर इन जातियों के वोट द्वारा जीत मुमकिन है। जैसे चौरसिया, गंगवार, दरजी, पाल, जांगिड़, पटेल, लोधी, मौर्य, प्रजापति, कुशवाहा, यादव, नाई, सेन और तमाम कुछ ऐसी जातियां शामिल है।

बताया जा रहा है जिस विधानसभा में जिस जाति का सबसे अधिक प्रभाव होगा, उस विधानसभा में उसी जाति का सम्मेलन कराया जाएगा। साथ ही एक और बड़ा फैसला लिया गया है। यदि इन जातियों में कोई ऐसा प्रभावशाली व्यक्ति होगा, जिसका संबंध किसी राजनीतिक पार्टी से नहीं हो, उनको पार्टी अपने सम्मेलन के दौरे पर साथ लेकर जाएगी। वहीं प्रदेश में इस काम हेतु कुछ ऐसे दिग्गज नेताओं को चुना गया है जिसमें रघुवर दास, सुशील मोदी, भूपेंद्र यादव, एसपी बघेल, कौशल किशोर और प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह जैसे नाम सामने आए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here