Home देश क्राइम प्रियंका अरुण वाल्मीकि के परिवार को देंगी 30 लाख रुपए

प्रियंका अरुण वाल्मीकि के परिवार को देंगी 30 लाख रुपए

कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका गांधी बुधवार को अरुण वाल्मीकि के परिवार वालों से मिली। उन्होंने अरुण के परिजनों को 30 लाख रुपए देने की घोषणा की।

0

योगिता लढ़ा, नई दिल्ली। कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका गांधी वाड्रा बुधवार को अरुण वाल्मीकि के परिवार वालों से मिली। प्रियंका ने अरुण के परिजनों को 30 लाख रुपए देने की घोषणा की। अरुण के परिवार वालों ने प्रियंका को बताया कि अरुण को इलेक्ट्रिक शॉक देकर मारा गया है। आरोपों के अनुसार उनकी की पत्नी ने ये दावा किया है कि पुलिस ने उनके वाल्मीकि समाज के करीबन 20 लोगों को हिरासत में ले लिया था। उनकी बेरहमी से पिटाई की गई थी। साथ ही घर की महिलाओं ने आरोप लगाया कि उनको महिलाओं ने ही नहीं बल्कि पुरुषों ने भी मारा है। घरवालों के अनुसार अरुण के हाथ बांधकर उनकी पिटाई की गई थी। पोस्टमार्टम के समय परिवार का कोई व्यक्ति मौजूद नहीं था। साथ ही अभी तक पोस्टमार्टम की रिपोर्ट भी परिवार को नहीं सौंपी गई है।

ये भी पढ़ें: UP ELECTION 2022: “लड़की हूं, लड़ सकती हूं” कहकर Priyanka Gandhi का ये बड़ा ऐलान

ये भी पढ़े: SUNNY LEONE के नए पोस्ट ने मचाई तबाही, सोशल मीडिया पर तेजी से हो रहा वायरल…

दरअसल, शनिवार को सफाई कर्मचारी अरुण वाल्मीकि पर पुलिस स्टेशन के गोदाम से 25 लाख रुपए चोरी करने का आरोप लगाया गया था। पुलिस के अनुसार अरुण ने चोरी को स्वीकार भी किया। इसके बाद जब पुलिस ने जांच शुरू की तो अरुण के घर से 15 लाख रुपए बरामद किए गए थे।  मंगलवार रात जब उनके घर पर छापेमारी की जा रही थी, तो अरुण की तबीयत बिगड़ गई। जिस कारण उन्हें अस्पताल ले जाया गया। जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया था। इसके बाद शव का पोस्टमार्टम कराया गया। उनकी डेड बॉडी को परिवार को सौंप दिया गया था।

ये भी देखे: आयोध्या की महिलाओं ने खोली योगी सरकार की पोल..

पहले हुआ था ये बवाल:
प्रियंका ने इस मामले पर ट्वीट किया। जिसमें उनका कहना था कि, “किसी को पुलिस कस्टडी में पीट-पीटकर मार देना कहां का न्याय है।” प्रियंका पहले से ही यूपी के दौरे पर थी। बुधवार को प्रियंका अरुण के परिवार से मिलने आगरा जा रही थी। उनकी कार को लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे पर रोक दिया गया था। यूपी पुलिस के अनुसार, आगरा के जिला मैजिस्ट्रेट ने राजनेताओं के क्षेत्र में प्रवेश करने पर रोक लगाई है। जिस कारण प्रियंका गांधी को क्षेत्र में जाने की अनुमति नहीं थी। आपको बता दें यूपी पुलिस ने उस इलाके में धारा 144 भी लगा दी है।

ये भी पढ़े: पीएम का कुशीनगर और सिद्धार्थनगर में दौरा, 9 जिलों में शुरू होंगे नए मेडिकल कॉलेज

हिरासत में ले जाने से पहले प्रियंका का कहना था कि “वो जहां भी जाती है उन्हें रोक दिया जाता है। आखिर सरकार में किस बात का डर है?” इसके बाद प्रियंका गांधी के टि्वटर हैंडल से एक ट्वीट किया गया। जिसमें वो अरुण वाल्मीकि की मौत का न्याय मांग रही है। प्रधानमंत्री मोदी पर भी प्रियंका गांधी ने निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि, “आज भगवान वाल्मीकि जयंती है। पीएम ने महात्मा बुद्ध पर बड़ी बातें की, लेकिन उनके संदेशों पर हमला कर रहे हैं।”

ये भी पढ़े: DIWALI 2021: BEST SMARTPHONES OF THE YEAR!

प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ-साथ उनके भाई और पार्टी सांसद राहुल गांधी को भी अरुण वाल्मीकि के परिवार से मिलने पर रोक लगा दी थी। हालांकि, यूपी सरकार ने बाद में दोनों विपक्षी नेताओं को अरुण के परिवार से मिलने की अनुमति दे दी है। इससे पहले लखीमपुर खीरी विवाद के दौरान भी प्रियंका गांधी वाड्रा को हिरासत में लिया गया था।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Exit mobile version