यूपी बोर्ड 10वीं-12वीं 2021 के परिणाम आ चुके हैं, बेसबरी से रिजल्ट की राह देख रहे छात्रों का इन्तेजार अब खत्म हो चुका है। यूपी बोर्ड ने एक ही साथ दोनों कक्षाओं के परिणाम घोषित कर दिये हैं. साल 2021 में 10वीम में 99.53% और 12वीं में 97.88% छात्र पास हुए हैं।

इस साल यूपी बोर्ड हाईस्कूल में कुल 29,96,031 छात्रों में से 29,82,055 छात्र उत्तीर्ण हुए हैं। इस साल 10वीम कक्षा का रिजल्ट 99.53% आया है। इन परिक्षार्थियों में से 16,76,916 छात्र हैं और 13,19,115 छात्राएं हैं, जिसमें से 16,68,868 छात्र और 13,13,187 छात्राएं पास हुए हैं। लड़कों का उत्तीर्ण प्रतिशत 99.52 है और लड़कियों का उत्तिर्ण प्रतिशत 99.55 है। एक बार फिर छात्राओं ने शिक्षा के क्षेत्र में बाज़ी मारी हैं वहीं छात्रों ने भी कोई कसर नहीं छोड़ी है।

इंटरमीडिएट परीक्षा में कुल 26,10,247 परीक्षार्थीयों में 25,54,813 परीक्षार्थी उत्तीर्ण हुए हैं। इन परीक्षार्थीयों में 14,74,317 छात्र हैं और 11,35,930 छात्राएं हैं। जिनमें से 14,37,033 लड़के और 11,17,780 लड़कियां पास हुई हैं। लड़कों का उत्तीर्ण प्रतिशत 97.47 है और लड़कियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 98.40 है. अगर ओवरऑल रिजल्ट देखा जाए तो यहां भी लड़कियां लड़कों से 0.93% आगे हैं।

कोरोनावायरस की महामारी के चलते इस साल यूपी बोर्ड ने पिछली कक्षाओं को आधार मानकर रिजल्ट बनाया है। यूपी बोर्ड ने हाईस्कूल के परिणाम के लिए कक्षा 9वीं और 10वीं के प्री-बोर्ड के अंकों को 50-50 प्रतिशत वेटेज दिया है। वहीं यूपी बोर्ड ने इंटरमीडिएट का रिजल्ट बनाने के लिए हाईस्कूल के अंकों को 50 प्रतिशत, 11वीं की वार्षिक-अधिवार्षिक परीक्षा के अंकों को 40 फीसदी और कक्षा 12वीं के प्री-बोर्ड रिजल्ट के 10 फीसदी अंक जोड़ने का निर्णय लिया है।

कोविड-19 संक्रमण के चलते इस साल यूपी बोर्ड ने परीक्षाएं रद्द कर दी थीं, इस साल पहली बार यूपी बोर्ड बिना परीक्षा के रिजल्ट दे रहा है।
साल 2021 में 10वीं-12वीं की बोर्ड परिक्षाओं के लिए 56,03,813 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था, जिनमें से 29,94,312 12वीं कक्षा के छात्र हैं और 26,09,501 10वीं कक्षा के छात्र हैं।

By Nikita

Leave a comment

Your email address will not be published.