नई दिल्ली: कोरोना की दूसरी लहर अब थम सी और कई राज्यों में पाबंदियों और कोविड प्रोटोकॉल के साथ स्कूलों और कॉलेजों को खोला जा रहा है और कहा गया है कि तीसरी आने की आशंका के कारण कुछ सावधानियां भी बरती जाएंगी। इसके साथ ही Delhi Disaster Management Authority (DDMA) ने रविवार को कहा कि राजधानी में स्कूल कल यानी 8 अगस्त सोमवार से 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए आंशिक रूप से फिर से खोलें जाएंगे। ऐडमिशन, कॉउंसलिंग और प्रैक्टिकल संबंधी कार्यों के लिए बच्चों को अपने स्कूलों में जाने की अनुमति है। आपको बता दें, दिल्ली सरकार ने इस साल जनवरी में भी केवल 9वीं से 12वीं कक्षाओं के लिए स्कूल खोलनें की अनुमति दी थी लेकिन कोविड मामलों में तेजी से वृद्धि के बाद फिर से बंद कर दिया गया था।

मैडिकल सदस्यों में एम्स निर्देशक रणदीप गुलेरिया, विनोद कुमार पॉल (सदस्य, नीति आयोग), डॉ सुजीत सिंह (निदेशक, राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र), डॉ बलराम भार्गव (महानिदेशक, आईसीएमआर) और कृष्णा वत्स (सदस्य, National Disaster Management Authority) भी उपस्थित थे। बैठक के दौरान उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि लंबे समय तक स्कूल बंद रहने को कारण बच्चों को बड़ा नुकसान हुआ है और ज्यातर माता-पिता चाहते हैं कि स्कूलों को फिर से खोला जाए।

बात करें राजधानी में आ रहें कोविड कैस की तो 24 घंटे के भीतर कोरोना वायरस के 66 नए मामले दर्ज किए गए है। वहीं मौत के आंकड़े शून्य रहें। पिछले 24 घंटों में शहर की पॉजिटिविटी रेट 0.10% रही। दिल्ली में रिकवरी रेट लगातार 23वें दिन भी 98.21% रही। पिछले 24 घंटों में कुल 73,681 टेस्ट किए गए थे। जिसमें से 49,913 RTPCR/ CBNAAT/ TRUE NET TEST थे और 23,768 RAPID ANTIGEN TEST थे। चल रहे वैक्सीनेशन अभियान में कल यानी शनिवार को 83,841 लोगों को टीका लगाया गया। जिनमें से 49,825 लोगों ने पहली खुराक लगवाई और 34,016 लोगों ने दूसरी खुराक। पूरे दिल्ली में अब तक 1,05,55,571 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है।

Leave a comment

Your email address will not be published.