उन्नाव रेप कांड के दोषी कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी संगीता सेंगर को भारतीय जनता पार्टी बीजेपी ने जिला पंचायत चुनाव का टिकट दिया है. कुलदीप की पत्नी संगीता सेंगर अभी ज़िला पंचायत अध्यक्ष हैं और 2016 में निर्दलीय अध्यक्ष बनी थीं. कुलदीप सेंगर बीजेपी से विधायक थे, लेकिन रेप केस में निर्दलीय अध्यक्ष बनी थीं. कुलदीप सेंगर बीजेपी से विधायक थे, लेकिन रेप केस में दोषी के बाद उन्हें पार्टी से निकाल दिया गया था.

कुलदीप सिंह सेंगर की पत्नी संगीता सेंगर को बीजेपी ने फतेहपुर चौरासी तृतीय क्षेत्र से जिला पंचायत सदस्य का प्रत्याशी बनाया है. इसके अलावा पूर्व जिलाध्यक्ष आनंद अवस्थी सरोसी प्रथम व नवाबगंज के निवर्तमान ब्लाक प्रमुख अरुण ङ्क्षसह औरास द्वितीय से भाजपा प्रत्याशी के रूप में चुनाव मैदान में होंगे.

आपको बता दें कि कुलदीप सिंह सेंगर बांगरमऊ से बीजेपी के टिकट पर चार बार विधायक रह चुके हैं. साल 2017 में उन्नाव के चर्चित रेप केस में कुलदीप सिंह सेंगर को गिरफ्तार किया गया था. इसके बाद उन्हें बीजेपी ने अगस्त 2019 में पार्टी से निकाल दिया था और इसके बाद उनकी विधानसभा की सदस्यता भी समाप्त कर दी गई थी.

पिछले साल कोर्ट ने कुलदीप सिंह सेंगर को रेप और अपहरण के मामले में दोषी करार देते हुए उन्हें उम्र क़ैद की सज़ा सुनाई थी. वहीं रेप सर्वाइवर के पिता की पुलिस कस्टडी में हुई मौत के मामले में भी सेंगर समेत सभी दोषियों को कोर्ट ने 10 साल की सजा सुनाई थी. कोर्ट ने कहा था कि कुलदीप सिंह अब अपनी सारी जिंदगी कारागार के पीछे ही काटेगा.

Leave a comment

Your email address will not be published.