ऐसे समय में जब आंध्र प्रदेश कई मंदिरों पर हमलों को लेकर सुर्खियों में है, सभी धार्मिक स्थलों पर निगरानी कैमरे लगाने की पहल ने राज्य के पूर्वी गोदावरी जिले की पुलिस को सोमवार को एक शराबी कसाई को गिरफ्तार करने में सफल बनाया। कसाई ने सप्ताह से भी अधिक समय पहले काकीनाडा में एक स्थानीय मंदिर के त्रिशूल को तोड़ दिया था।

पुलिस ने काकीनाडा के कोंडाय्यपलेम में रहने वाले 39 वर्षीय वनुमू लक्ष्मण राव को गिरफ्तार कर लिया और उसके आपराधिक कृत्य की फुटेज भी हासिल करने में सफल रही। पुलिस ने फुटेज भी साझा किया। फुटेज में राव नाचता हुआ और त्रिशूल पकड़ी देवी मूर्तियों के सामने बात करता और उन्हें छूता नजर आ रहा है।

सीसीटीवी कैमरे से बने एक अन्य वीडियो में, राव ने अपना हाथ उठाया और मूर्ति के त्रिशूल को धक्का दिया, जिससे उसका शीर्ष भाग टूट गया।

उसने सिर्फ 10 मिनट में अपराध को अंजाम दिया। 9 जनवरी की रात काकीनाडा के कोंडाय्यपलेम स्थित श्री नुक्कलम्मा मंदिर में रात 10.20 से 10.30 के बीच उसने यह कृत्य किया था।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, “उससे पूछताछ की गई। गिरफ्तार आरोपी ने यह अपराध कबूल कर लिया है।”उस दिन राव ने अपने दोस्त की साइकिल उधार ली और नशे में धुत होकर वह बाद में मंदिर में गया, त्रिशूलों को तोड़ दिया और चलते बना था।राव के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 447, 295, 295-ए, 153-ए के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.