महंगाई 7 से 8 साल पहले बड़ा मुद्दा हुआ करता था , फिर इसे जुमले की बिमारी लग गई और सियासी चुनावी मेलों में न जाने क्यूं , महंगाई कहीं खो सी गई है ।

काले बाज़ार में बदशक्ल चुड़ैलों की तरह ,कीमते काली दुकानों पर खड़ी रहती है हर खरीदार की जेबों को कतरने के लिये

आपको समृती ईरानी याद हैं क्या ताबड़-तोड़ प्रदर्शन करती थीं महंगाई के ख़िलाफ, पुरी BJP जो उस वक्त विपक्ष के भुमीका में थी क्या आवाज़ लगाती थी महंगाई से लड़ने के लिये. फिर मौसम बदला सरकार में भी फेर बदल हो गया अब जो काम तब की विपक्ष करती थी वो काम अब की विपक्ष कर रही है , हां आवाज़ में थोड़ी जोश की कमी ज़रूर है, शायद ईसी वजह से सरकार आवाज़ सुन नहीं पा रही है और ईस मुद्दे को भूल सी गई है और महंगाई अपनी गती में है ।

पेट्रोल और डिजल की बात करते हैं
भारत में PETROL और DISEL दुनिया के सभी शक्ती शाली देशों के मुकाबले ज़ादा महंगी है

भारत में PETROL – 89.3
नेपाल में PETROL- 68.97
पाकिसतान में PETROL- 51.14

अगर दुनिया की 5 बड़ी देशो को भी देखें तो भारत 2 NUMBER पर है.

अमेरीका में PETROL – 54.65
चीन में PETROL – 74.74
रूस में PETROL -74.20
जापान में PETROL – 94.76

ये तो बात रही पेट्रोल और डिजल की अब देखते है आपकी भूख मिटानें में एहम भूमिका निभाने वाले सिलेडर की

  1. LPG 4फरवरी को 25 रूपये बढ़ा , 15 फरवरी को 50 रूपये बढ़ा. बढ़ते बढ़ते पिछले 3 महिने में 200 रूपये से ज्यादा की बढ़ोतरी हुई हैं

खुदरा महंगाई दर की बात करे तो जनवरी 2021 में खुदरा महगाई दर बढ़ कर 4.06 फिसदी थी जो फरवरी में बढ़ कर 5.03 फिसदी हो गई है

NSO यानी नेशनल सैटिस्किल ऑफिस की ओर से जारी आकड़ो के अनुसार खाद्द महगाई दर जनवरी में 1.89 फिसदी था जो फरवरी 2021 में बढ़ कर 3.87 फिसदी हो गया हैं

फ्यूल एंड लाईट कैटेगरी की महगाई दर बढ़कर 3.53 फिसदी पर दर्ज की गई है।

ये सब देखने के बाद मोदी जी की कुछ बाते बहुत याद आती हैं अब जब याद आ ही गई है तो आपको भी सुनाते है

मंहगाई बढ़े और ईतनी गती से बढ़े और सरकार तारिख पे तारिख दे आपने सुना है ? जि हां मोदी जि आपके सरकार से भी सुना है अब मैं ईतना ही कहुंगा की प्रधान मंत्री जी आप महंगाई कम करें या ना करें कम से कम मनमोहन सिंघ कि सरकार जहां छोड़ कर गई थी वहां तो लाकर रख दें ।

अब आपको एक ख़ास बात बताता हूं

सरकार आती जाती रहती है ,जुमले चुनावी मेलों में उच्छलती रहती है मगर महंगाई जो है वो constant रहती है

Leave a comment

Your email address will not be published.