दिल्ली मेट्रो रेल कॉपोर्रेशन (DMRC) ने मंगलवार को किसानों की ट्रैक्टर रैली में हिंसा के मद्देनजर येलो, ग्रीन, वायलेट और ब्लू लाइनों पर विभिन्न मेट्रो स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए हैं। 72वें गणतंत्र दिवस परेड के दौरान हजारों ट्रैक्टर दिल्ली में प्रवेश कर गए। आईटीओ में भी तोड़फोड़ की सूचना मिली, जहां पुलिस मुख्यालय स्थित है। पुलिस पूरी तरह से स्थिति से अनभिज्ञ दिखे।

DMRC ने महत्वपूर्ण कदम उठाया और ट्वीट किया, “समयपुर बादली, रोहिणी सेक्टर 18/19, हैदरपुर बादली मोर, जहांगीर पुरी, आदर्श नगर, आजादपुर, मॉडल टाउन, जीटीबी नगर, विश्व विद्यालय, विधानसभा और सिविल लाइंस के प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए गए हैं। ये स्टेशन येलो लाइन पर हैं।”

इसके अलावा, ग्रीन लाइन पर सभी स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार बंद कर दिए गए हैं। वायलेट लाइन का लाल किला मेट्रो स्टेशन और ब्लू लाइन का इंद्रप्रस्थ मेट्रो स्टेशन भी बंद कर दिया गया है।
मंगलवार को दिल्ली के सीमावर्ती इलाकों के विभिन्न हिस्सों से अराजकता और हंगामे की सूचना मिली, क्योंकि प्रदर्शनकारियों ने ट्रैक्टर रैली के लिए निर्धारित समय के समझौते को दरकिनार करते हुए दिल्ली में प्रवेश किया।

स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले दागने पड़े और हल्का बलप्रयोग करना पड़ा। प्रदर्शनकारियों ने पुलिसकर्मियों का तलवारों से पीछा किया, जिससे कई पुलिसकर्मी घायल हो गए।
इससे पहले, विभिन्न ग्रीन लाइन स्टेशनों के प्रवेश द्वारा बंद कर दिए गए थे, जिसमें ब्रिगेडियर होशियार सिंह, बहादुरगढ़ सिटी, पंडित श्री राम शर्मा, टिकरी बॉर्डर, टिकरी कलां, घेवर, मुंडका औद्योगिक क्षेत्र, मुंडका, राजधानी पार्क, नांगलोई रेलवे स्टेशन और नांगलोई शामिल हैं।

इस बीच दिल्ली पुलिस लोगों से शांति और व्यवस्था बनाए रखने की अपील कर रही है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *