नई दिल्ली: राज्य में मजदूर वर्ग को एक बड़ी राहत देते हुए, तमिलनाडु सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल की कीमत में 3 रुपये प्रति लीटर की कमी करने की घोषणा की है।

तमिलनाडु के वित्त मंत्री पलानीवेल त्यागराजन ने शुक्रवार को बजट पेश करते हुए कहा कि पेट्रोल की कीमतों में 3 रुपये की कटौती की गई है और इससे राज्य सरकार को एक साल में 1,160 करोड़ रुपये का घाटा होगा।
राज्य मंत्री ने कहा, “तमिलनाडु में दोपहिया वाहनों का उपयोग करने वाले 2.6 करोड़ लोग हैं। तमिलनाडु सरकार द्वारा पेट्रोल में 3 रुपये की कमी की गई है। इस वजह से सरकार को 1,160 करोड़ रुपये की कमी का सामना करना पड़ेगा।

संशोधित बजट अनुमान 2021-2022 के अनुसार, राज्य सरकार ने पेट्रोल पर कर की प्रभावी दर को 3 रुपये प्रति लीटर कम करने का फैसला किया है और इस तरह राज्य में मेहनतकश वर्ग के लोगों को बड़ी राहत प्रदान की है। इस उपाय से सालाना 1,160 करोड़ रुपये के राजस्व(TAX) का नुकसान होगा।

DMK सरकार ने पेश किया पहला बजट, लॉन्च होगा सिंगारा चेन्नई 2.0। उन्होंने कहा कि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के निर्देश पर यह कटौती की गई है। द्रमुक ने अपने घोषणा पत्र में पेट्रोल की कीमत 5 रुपये प्रति लीटर और डीजल में 3 रुपये प्रति लीटर कम करने का वादा किया था।

Leave a comment

Your email address will not be published.