“टंट्या मामा के नाम से जाना जाएगा अब पातालपानी रेलवे स्टेशन”……

0
patalpani station
patalpani station

पहल गुप्ता,नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में स्तिथ पातालपानी (Patalpani) रेलवे स्टेशन अब “टंट्या मामा” के नाम से जाना जाएगा।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पहले भोपाल के हबीबगंज रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर रानी कमलापति रेलवे स्टेशन करने के बाद अब इंदौर के एक रेलवे स्टेशन का नाम बदलने का निर्णय लिया है।आपको बता दे की ये एक छोटा सा स्टेशन है।

यह स्टेशन इंदौर–अकोला रेललाइन (railline) पर पड़ता है। जिसका पातालपानी झरना पर्यटन स्थल (tourist place) घूमने आए लोग इस्तेमाल करते है।बता दे की आज भी आदिवासी घरों में टंट्या मामा यानी की टंटाया भील की बहुत ही श्रद्धा के साथ पूजा अर्चना की जाती है।टंट्या भील को वहा के लोग देवता की तरह पूजते है ।इन्होंने अंग्रेजो की आदिवासियों पर दमनकारी नीतियों पर जबरजस्त तरीके से विरोध किया और उन्हें इंडिया का रॉबिनहुड कहा गया है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंडला में जनजातीय गौरव सप्ताह के समापन कार्यक्रम को संबोधित कर रहे है।इस दौरान इन्होने निर्णय लिया है की जनजाति महानायको के नाम पर अनेक स्थानों के नाम को परिवर्तित करने की घोषणा की। एम.पी सरकार ने यह भी कहा कि मंडला में बनने वाले मेडिकल कॉलेज का नाम राजा हृदय सिंह के नाम से जाना जाएगा।4 दिसंबर को जननायक टंट्या मामा जो एक बड़े क्रांतिकारी थे,उनका बलिदान दिवस मनाया जाएगा।अंग्रेज भी उनसे घबराते थे उन्होंने भी अपने आप को देश के लिए बलिदान कर दिया।इसलिए हमने तय किया है कि प्राथमिक स्वास्थ केंद्र मानपुर का नाम टंट्या भील के नाम पर रखा जाएगा और पातालपानी में स्थित टंट्या मामा के मंदिर की भी मरम्मत कराई जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here