भारत आज अपना 75वा स्वतंत्र दिवस मना रहा है और इसी के उपलक्ष में हर साल की तरह इस साल भी हमारे देश के प्रधानमंत्री हमारे लाल किले पर झंडा फहराएंगे। आपको बता दें 2014 से 2021 तक हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने अब तक आठ बार झंडा फहरा चुके हैं। देश की आजादी के जश्न में हमारे देश के प्रधानमंत्री ने कुल 90 मिनट का भाषण दिया।

इस भाषण में पीएम मोदी ने जिन खास चीजों की बात करी वो देश के लिए, देशवासियों के लिए प्रेरणादायक थी। पीएम कहते हैं कि अगले 25 साल हमारे देश के लिए अमृत काल होगा। जब भारत की आजादी का 100 सालों का जश्न बनेगा तब देश देखेगा कि गांव और शहर के एक से कैसे लगते हैं। इसके लिए दृढ़ संकल्प से हर काम करना होगा। विकास की बात करते हुए मोदी जी ने कहा कि “100% गांव में सड़के हो। 100% परिवारों के बैंक अकाउंट हो। 100% लाभार्थी को आयुष्मान भारत का कार्ड हो” गरीबी पर बात करते हुए पीएम ने यह दावा किया है कि गरीबों को राशन और स्वास्थ्य सुविधाएं सरकार पहुंचाएगी। कोविड-19 महामारी में जिन लोगों ने अपनों को खोया है पीएम ने उन्हें भी याद किया। वही साथ ही पीएम ने कहा है कि देश भर में हर एक अस्पताल में खुद के ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाएंगे।

पिछले 7 वर्षों में जो विकास किए गए हैं, अब उसे और भी तेजी देने का समय आ गया है। अपने भाषण में पीएम मोदी जी ने दावा किया है कि जल्दी ही नॉर्थ ईस्ट भारत के सभी राज्यों की राजधानी को रेलवे सुविधा दी जाएगी। साथी लद्दाख में भी उच्च शिक्षा का केंद्र बनाने की घोषणा की गई है।

कॉपरेटिव सिर्फ नियम कानूनों का जंजाल नहीं है बल्कि यह तो साथ चलने के लिए जरूरी है। विकास पर जोर देते हुए मोदी जी ने यह बताया कि कि गांव में फाइबर और इंटरनेट जैसी सुविधाएं दी जाएंगी।

देश की महिलाएं जो काम करती हैं उनको एक बड़ा प्लेटफार्म देने के लिए सरकार इकॉमर्स प्लेटफॉर्म भी तैयार करेगी। कोविड-19 में हमारे वैज्ञानिकों ने जो काम किया हम उनकी मेहनत को नहीं भूल सकते। इसीलिए अब वैज्ञानिकों की मदद एग्रीकल्चर सेक्टर में भी ली जाएगी।

कई किसानों के पास 2 हेक्टर से भी कम जमीन है उनके लिए कृषि सुधार किया जा रहा है और साथ ही फसल बीमा में भी सुधार होगा, छोटे किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड से बैंक से लोन मिलेगा।

स्वामी विवेकानंद जी को याद करते हुए पीएम ने कहा है कि, “जहां तक हो सके अतीत के और देखो पीछे जो झरना बह रहा है उसका जल पियो और सामने की ओर देखो आगे बढ़े और भारत को पहले से भी ज्यादा उज्जवल, महान और श्रेष्ठ बनाओ।” हमें मिलकर हरे क्षेत्र में काम करना होगा। लाखों नौजवानों के रोजगार के अवसरों के लिए कई नई योजनाएं लॉन्च की जाएंगी।

भारत में “INS VIKRANT” को कुछ समय पहले ही प्रशिक्षण के लिए भेजा था साथ ही भारत अपना खुद का लड़ाकू विमान बना रहा है। कोरोना की वजह से कई नए स्टार्टअप सामने आए हैं उनकी मार्केट वैल्यू हजारों करोड़ों रुपए तक है। भारत वासियों को संबोधित करते हुए पीएम कहते हैं कि इन्हीं स्टार्टअप को पूरी दुनिया में सर्वश्रेष्ठ बनाना है।

शिक्षा नीति पर बात करते हुए पीएम ने कहा है कि “अब हमारे बच्चे भाषा की सीमा में नहीं बंधेंगे” नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति भी गरीबी के खिलाफ जंग जीतने में मदद करेगी। खेल के मैदान में भाषा कभी भी रुकावट नहीं बनती। इसीलिए स्पोर्ट्स को नई शिक्षा नीति में मेन स्ट्रीम कोर्स के अंदर मान्यता दी है। जितने भी सैनिक स्कूल होंगे सभी में अब बेटियां भी पढ़ेगी।

भारत आज भी एनर्जी के लिए दूसरे देशों पर निर्भर है। और इसीलिए जल्दी ही ग्रीन हाइड्रोजन के क्षेत्र को पूरा करने के लिए पीएम ने “National Hydrogen Mission” को शुरू करने की घोषणा करी है। भारत को ऊर्जा के क्षेत्र में ग्लोबल हब बनाना है।

“भारत बदल रहा है, भारत बदल सकता है और कड़े से कड़े फैसले ले सकता है” पीएम ने यह कहते हुए कहां है कि भारत विस्तारवाद और आतंकवाद दोनों ही चुनौतियों से लड़ रहा है और बड़ी हिम्मत के साथ जवाब भी दे रहा है। सेना का हाथ मजबूत करने के लिए भारत कोई भी कसर नहीं छोड़ेगा।

“Local for vocals” को बढ़ावा देते हुए पीएम ने कहा है कि हमें साथ मिलकर आगे बढ़ना होगा। अपने भाषण के अंतिम चरण में पीएम कहां है कि संकल्प करके हम सब कुछ हासिल कर लेंगे। “यही समय है, सही समय है, भारत का अनमोल समय है, असंख्य भुजाओं की शक्ति है, हर तरफ देश की भक्ति है, तुम उठो तिरंगा लहरा दो भारत के भाग्य को फैरा दो” के साथ देशवासियों को संबोधित करते हुए पीएम पीएम ने भारतवासियों को 75वें स्वतंत्र दिवस की बधाई दी।

Leave a comment

Your email address will not be published.