काला जादू के चक्कर में मॉं-बाप ने किया अपनें ही बच्चों का बेरहमी से हत्या, वजह जान दंग रह जाएगें

0
All member hanged themself

मंगलवार की सुबह जब आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में मदनपल्ली शहर के मास्टरमाइंड्स IIT टैलेंट स्कूल के प्रिंसिपल V Padmaja को taluk अस्पताल में कोरोनोवायरस जांच के लिए लाया गया था तब, उनकी दो बेटियों की कथित रूप से हत्या करने के मामले में उनकी गिरफ्तारी कर ली गई । “कोरोना चीन से नहीं आया … यह शिव से आया था। मैं शिवा हूँ और कोरोना मार्च तक जाएगा , ”उसने कहा कि मेडिकल स्टाफ ने RT-PCR जांच के लिए नाक का स्वाब (nasal swab) लेने कि कोशिश की ।
Padmaja और उनके पति Dr V Purushotham Naidu, मदनपल्ली के गवर्नमेंट डिग्री कॉलेज में Chemistry के एसोसिएट प्रोफेसर और वाइस प्रिंसिपल हैं, उनकी दो बेटियों अलेखा (25) और साईं दिव्या (22) को कथित रूप से डम्बल से मौत के घाट उतारने के आरोप में, 24 जनवरी को टीचर्स कॉलोनी इलाके में घर से गिरफ्तार कर लिया गया है।

मंगलवार को Padmaja के साथ आंदोलन की स्थिति में Naidu, Corona जांच के लिए एक नाक का स्वाब (nasal swab) प्रदान करने के बाद चुपचाप एक तरफ खड़े थे। “मेरे पास कोई टिप्पणी नहीं है’,” उन्होंने कहा, ”मेरे पास कोई जवाब नहीं है’ जब उनसें घटनाओं के बारे में पूछा गया जिससे उनकी बेटियों की मौत हुई।
मंगलवार की देर शाम, जब couple को एक सिविल जज के आवास पर पेश किया गया, और उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

मदनपल्ली पुलिस और अन्य लोग एक साथ हमें फसाने की कोशिश कर रहे हैं – couple द्वारा दिए गए बयानों से और ‘उन लोगों से जो couple को करीब से जानते थे’ और साथ ही क्राइम सीन से मिले सबूतों से, जो नायडू घर में हत्या के बाद मिलीं ।
मदनपल्ली तालुक के डीएसपी रवि मनोहर अचारी ने कहना है कि – “ऐसा लगता है कि पूरा परिवार किसी बड़ी और गहरी धार्मिक विश्वास में शामिल थें, यह मौतें उन्ही कारणों के वजह से हुई हैं।

परिवार के दोस्तों ने और परिचित लोगों ने एक ही प्रकार की बातें बताई, मात्र एक चीज अलग थी कि क्या माता-पिता या उनके बच्चे घर में कथित धार्मिक प्रथाओं के लिए जिम्मेदार थे।
एक पुलिसकर्मी जो अपनी गिरफ्तारी के बाद couple की हिरासत में शामिल था उसनें कहा-“वे सभी इसमें एक साथ थे। परिवार पिछले साल अगस्त में आलीशान तीन-मंजिला घर में चले गए थे घर के चारों ओर – धार्मिक समारोहों से जुड़े नींबू और एलोवेरा जैसे पेड़ हैं।

मास्टरमाइंड्स स्कूल में एक पूर्व शिक्षक द्वारा हत्याओं के बारे में पुलिस को बताया गया था, जिससें हत्या के बाद नायडू ने संपर्क किया था।
जब पुलिस घर पहुंची, तो उन्होंने देखा कि ‘अलेखा’ (जो कि एमबीए ग्रेजुएटऔर सिविल सर्विस की तैयारी कर रही थी) , उसके सिर पर डंबल से वार किया गया था, उसके बाल जल गए थे और डंबल का एक टुकड़ा उसके मुंह में भर गया था। वहीं दुसरी ओर छोटी लड़की ‘साईं दिव्या’ ( the A R Rahman music academy में नृत्य की छात्रा थी) को मृत पाया गया उसपे त्रिशूल से वार किया गया था

एक पुलिस अधिकारी ने कहा- “माता-पिता को उन पर कोई चोट नहीं दिखा , ऐसा लग रहा था कि लड़कियां वापस लौट जाएंगी।” हालांकि, जो उनके आस-पास रहने वाले लोग थें और साथ काम करने वालो को उनके कथित प्रथाओं के बारे में ‘कहानियों’ पर विश्वास करना मुश्किल है
मास्टरमाइंड स्कूल के एक कार्यकर्ता ने कहा- मैं 25 वर्षों से मास्टरमाइंड स्कूल के प्रिंसिपल को जानता हूं। मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि वह ऐसा कर सकती थी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here