निकिता, नई दिल्ली: उत्तराखंड कोरोना महामारी का असर काफी कम हो गया है, लेकिन इसके बावजूद उत्तराखंड की सरकार कोई रिस्क नहीं लेना चाहती है, जिसकी वजह से राज्य में Covid Curfew 10 अगस्त तक बढ़ा दिया गया है, जिसमें की किसी तरह की कोई नई राहत नहीं दी गई है। सोमवार को आपदा प्रबंधन विभाग ने मानक प्रचलन विधि (एसओपी) जारी कर दी है, जिसके तहत 10 अगस्त की सुबह 6 बजे तक उत्तराखंड में Covid Curfew लागू रहेगा। पहले लगे हुए प्रतिबंध फिलहाल वैसे ही रहेंगे उसमें कोई नई राहत नहीं दी गई है।


शिक्षण संस्थान अलग से एसओपी जारी करेंगे

सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को कोरोनावायरस से संबंधित सभी गाइडलाइंस को सख्ती से मानना होगा और उनका पालन करना होगा। वहीं आईटीआई, पॉलिटेक्निक, कॉलेज, नर्सिंग संस्थान, मेडिकल संस्थानों के लिए संबंधित विभाग अलग से एसओपी जारी करेंगे।
बाहर से आने वाले लोगों, पर्यटकों के लिए भी कुछ प्रावधान बनाए गए हैं, जिनका उन्हें पालन करना होगा उत्तराखंड में प्रवेश करने के लिए। कोविड वैक्सीन की दोनों डोज लगवाने के बाद अगर कोई उत्तराखंड जाएगा तो उसे आरटीपीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट की जरुरत नहीं पड़ेगी, वह व्यक्ति वैक्सीनेशन के सेर्टिफिकेट के आधार पर उत्तराखंड में प्रवेश कर सकेगा।


दुकानें रात के 9 बजे तक और होटल व रेस्टोरेंट रात के 10 बजे तक खुलेंगे

सभी सामानजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक समारोह तय की गई सीमा के अनुसार ही होंगे। दुकानों को खोलने का समय सुबह 8 बजे से रात 9 बजे तक रहेगा, और होटल व रेस्टोरेंट रात 10 बजे तक खुले रहेंगे। इसके अलावा जिम, शॉपिंग मॉल, सिनेमाहॉल स्पा, स्वीमिंग पूल, पार्क आदि 50 प्रतिशत क्षमता के साथ ही खुलेंगे। रात में Curfew जारी रहेगा, नगरीय क्षेत्रों में स्थित होटल रेस्टोरेंट, भोजनालय व ढाबे रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक बंद रहेंगे।


खेल प्रशिक्षण संस्थान खुलेंगे

कोविड महामारी के चलते बंद पड़े खेल प्रशिक्षण फिर से खुलेंगे और गतिविधियां शुरु होंगी। केवल स्थानीय खिलाड़ियों को ही स्टेडियम और खेल केन्द्रों में जाने की प्रमिशन होगी। 65 वर्ष से अधिक आयु के लोग, बीमार व्यक्ति, गर्भवती महिलाओं को खेल परिसर में आने की अनुमति नही होगी। शासन ने हाल ही में इस बारे में भी एसओपी जारी कर दी थी।

Leave a comment

Your email address will not be published.