Examination का सिलसिला शुरु हो चुका है, इसी बीच बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (BSEB) की ओर से आयोजित मैट्रिक यानी 10 वीं की परीक्षा कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच बुधवार से शुरू हो गई। इस परीक्षा के लिए राज्यभर में कुल 1,525 केंद्र बनाए गए हैं। इस परीक्षा में राज्यभर से इस साल मैट्रिक की परीक्षा में कुल 16,84,466 विद्यार्थी शामिल होंगे, इसमें 8,37,803 छात्राएं और 8,46,663 छात्र हैं। प्रतिदिन दो पालियों में होने वाली इस परीक्षा में कदाचार रोकने के लिए इस साल समिति द्वारा पुख्ता व्यवस्था की गई है। सभी परीक्षा केंद्रों पर धारा 144 के तहत निषेघ लागू कर दी गई है। 


समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने बताया कि परीक्षार्थी इस साल परीक्षा भवन में जूता-मोजा पहनकर आ सकते हैं, लेकिन केंद्र के भीतर मोबाइल, ब्लू ट्रूथ, कैलकुलेटर सहित सभी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस लेकर प्रवेश वर्जित है। परीक्षा के पहले दिन करीब सभी परीक्षार्थी परीक्षा केंद्र पर 10 मिनट पहले पहुंच गए। 
उन्होंने बताया कि कदाचारमुक्त परीक्षा आयोजित करने के लिए इस बार उत्तर पुस्तिका और ओएमआर पर परीक्षार्थी की तस्वीर लगी हुई है। यह वही तस्वीर होगी जो परीक्षार्थी के प्रवेश पत्र में होगी।
सुबह परीक्षा प्रारंभ होने के पूर्व केंद्रों पर अभिभावकों की भीड़ देखी गई थी, परंतु परीक्षा प्रारंभ होने के बाद भीड़ छट गई। परीक्षा 24 फरवरी तक चलेगी।  

Leave a comment

Your email address will not be published.