Zomato ने क्यों बंद की थी नॉन-वेज खाने की डिलीवरी! सामने आया कंपनी का बयान

zomato

फ़ूड डिलीवरी कंपनी Zomato को लेकर बड़ी खबर आ रही है, जिसमें बताया गया की कल यानि 22 जनवरी को कंपनी ने नॉन-वेज खाने की डिलीवरी ही नहीं ली, इसकी कई शिकायतें भी सामने आईं। बाद में कंपनी की ओर से एक बयान जारी करके बताया गया की वो नॉन-वेज आर्डर क्यों नहीं ले रहे थे। आइए जानते हैं पूरी खबर

राममंदिर उद्घाटन

राममंदिर उद्घाटन की वजह से देश के कई राज्यों में मीट-मछली की बिक्री पर प्रतिबन्ध रहा। इसमें उत्तर प्रदेश के अलावा छत्तीसगढ़, असम, राजस्थान और मध्यप्रदेश शामिल रहे। Zomato की ओर से जारी किए गए बयान में बताया गया की राज्य सरकार के निर्देश के अनुसार इन राज्यों में नॉन-वेज की डिलीवरी बंद रही। हालांकि अब ये नियमति तौर पर शुरू हो चुकी है।

बता दें की नॉन-वेज की डिलीवरी ही नहीं, दिल्ली, उत्तर प्रदेश में बूचड़खानों, मीट की दुकानें भी बंद थीं। इसे लेकर राज्य सरकारों ने आदेश जारी किया गया था। आज से स्थिति पहले की तरह से सामान्य है, अब किसी भी राज्य में ऐसी किसी भी गतिविधि को लेकर कोई आदेश जारी नहीं किया गया है।

ये भी पढ़ें: Railway के ये शेयर हुए मुनाफवाली के शिकार, एक घंटे में 10.53% की गिरावट

शेयर पर असर

नॉन-वेज डिलीवरी बैन के बाद से ऐसा अनुमान लगाया जा रहा था की इसका असर कंपनी के शेयर पर भी देखने को मिलेगा, लेकिन ऐसा नहीं है। आज मंगलवार को Zomato के 2.18 फीसदी की तेजी के साथ खुले, हालांकि सेंसेक्स और निफ़्टी में गिरावट का असर इस कंपनी के स्टॉक पर भी नजर आया। अभी Zomato की शेयर 1.01% की गिरावट के साथ 131.75 रुपये पर ट्रेड कर रहे हैं।

हर्ष पिछले 4 सालों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। मूल रूप से हर्ष गोरखपुर के रहने वाले हैं। हर्ष इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के साथ साथ डिजिटल मीडिया का भी अनुभव रखते हैं फिलहाल समाचार नगरी में बिजनेस बीट पे काम कर रहे है। हर्ष बिजनेस के अलावा एंटरटेनमेंट, पॉलिटिकल, लेटेस्ट न्यूज, वायरल के साथ साथ धर्म बीट पर काम कर चुके हैं। इसके साथ ही हर्ष ने कई डिजिटल चैनल्स पर जमीन पर उतरकर रिपोर्टिंग भी की है।