Taxpayers को बढ़ी राहत, सरकार बढ़ाने जा रही है टैक्स स्लैब की लिमिट?

taxpayers

टैक्सपैयर्स (Taxpayers) को राहत देने के लिए भारत सरकार की ओर से जल्द ही एक नया ऐलान किया जा सकता है, बताया जा रहा है की आगामी वित्त वर्ष से टैक्स स्लैब में बदलाव हो सकता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारत सरकार व्यक्तिगत टैक्स देने वालों को बड़ी राहत दे सकती है। जिसके लिए सालाना 7.50 लाख रुपये की कमाई पर कोई टैक्स न देने की बात सामने आ रही है।

अभी सात लाख रुपये सालाना की कमाई पर कोई टैक्स नहीं देना होता है। ये खबर तब आई है, जब देश में लोकसभा के चुनाव होने वाले हैं। जानकारों का कहना है की इसकी आधिकारिक पुष्टि तभी होगी, जब सरकार की ओर से फाइनेंसियल बिल पेश किया जाएगा। इसका लाभ पेंशनर्स को भी मिलने वाला है, जिसमें उनके लिए 15 हजार रुपये तक की छूट का ऐलान संभव है।

बढ़ी है टैक्सपैयर्स की संख्या

आयकर विभाग की ओर से जो अकड़े शेयर किए गए हैं, उसमें साफ देखा जा सकता है की देश में ऐसे लोगों की संख्या बढ़ी है। जो व्यक्तिगत टैक्स भरते हैं। वित्त वर्ष 2022-23 में ऐसे लोगों की संख्या 7.51 करोड़ थी, जो इस वित्त वर्ष में बढ़कर 8.18 करोड़ हो चुकी है। ये पिछले साल के मुकाबले नौ फीसदी अधिक है। टैक्स स्लैब में बदलाव से इन सभी को राहत मिलने वाली है।

ये भी पढ़ें: आपके घर में भी है कोई आलसी, तो बताएं ये ट्रिक! बैठे-बैठे बन जाएगा Pan Card

टैक्स स्लैब

अगर आपकी कमाई 3 लाख रुपये सालाना है तो कोई टैक्स नहीं देना होता है, 3 से 6 लाख रुपये की सालाना आय पर 5% तक का टैक्स देना होता है। 6 से 9 लाख रुपये की आय पर 15,000 + आय का 10% टैक्स लगता है। 9 से 12 लाख की आय पर 45,000 + आय का 15%, 12 से 15 लाख पर 90,000 + आय का 20% और 15 लाख से अधिक की आय पर 150,000 + आय का 30% टैक्स सरकार को देना होता है।

हर्ष पिछले 4 सालों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। मूल रूप से हर्ष गोरखपुर के रहने वाले हैं। हर्ष इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के साथ साथ डिजिटल मीडिया का भी अनुभव रखते हैं फिलहाल समाचार नगरी में बिजनेस बीट पे काम कर रहे है। हर्ष बिजनेस के अलावा एंटरटेनमेंट, पॉलिटिकल, लेटेस्ट न्यूज, वायरल के साथ साथ धर्म बीट पर काम कर चुके हैं। इसके साथ ही हर्ष ने कई डिजिटल चैनल्स पर जमीन पर उतरकर रिपोर्टिंग भी की है।