SIP में करना चाहते हैं निवेश तो सबसे पहले समझिए ये आंकड़े, होगा फायदा

sip

सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) ये नाम आपने हाल के दिनों में जरूर सुना होगा, ये आज के समय का सबसे लोकप्रिय माध्यम है निवेश का। इसे डिसिप्लिन इन्वेस्टमेंट भी कहा जाता है, ऐसा इसलिए की SIP में नियमति समय पर निश्चित निवेश करना होता है। आज आपको SIP के बारे में वो सभी जानकारियां देने वाले हैं, जो शुरुआत तौर पर सभी के पास होनी ही चाहिए।

SIP क्या है

जैसा की हमने पहले ही बताया की SIP का नाम ही सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान, इसमें कंपनियों के माध्यम से म्यूच्यूअल फंड्स में निवेश किया जाता है। जिन कंपनियों में आप निवेश करते हैं वो उसी पैसे को शेयर बाजार के माध्यम से अन्य कंपनियों में लगाती हैं। SIP में रिस्क है, लेकिन जब लंबे समय के निवेश की बात आती है तो रिस्क फैक्टर कम हो जाता है।

एक्सपर्ट्स का कहना है की कभी भी बेहतर रीटर्न के लिए शार्ट टर्म SIP नहीं करनी चाहिए, लॉन्ग टर्म में न सिर्फ बेहतर इंट्रेस्ट मिलता है, बल्कि कम्पाउंडिंग भी शानदार होती है। इसमें मासिक और एकमुश्त भी निवेश किया जा सकता है, अगर आप नौकरी वाले हैं तो मासिक निवेश को चुन सकते हैं। अगर अभी अच्छी रकम है तो एकमुश्त निवेश कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: ओ काका आ गई ज्यादा माइलेज वाली Hyundai Exter CNG, अभी खरीदने पर मिलेगा तगड़ा डिस्काउंट

किसमें ज्यादा मुनाफा

एकमुश्त निवेश में ज्यादा मुनाफा होता है, वो ऐसे की मान लीजिए आपने हर महीने एक हजार रुपये की SIP शुरू की पांच साल के लिए। पांच साल के बाद आपके द्वारा निवेश की गई रकम होगी 60 हजार, इसपर 12 हजार रुपये के लिए सालाना ब्याज मिलेगा। जबकि एक साथ 60 हजार रुपये का निवेश करने पर हर साल उस रकम पर इंट्रेस्ट मिलेगा।

हर्ष पिछले 4 सालों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। मूल रूप से हर्ष गोरखपुर के रहने वाले हैं। हर्ष इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के साथ साथ डिजिटल मीडिया का भी अनुभव रखते हैं फिलहाल समाचार नगरी में बिजनेस बीट पे काम कर रहे है। हर्ष बिजनेस के अलावा एंटरटेनमेंट, पॉलिटिकल, लेटेस्ट न्यूज, वायरल के साथ साथ धर्म बीट पर काम कर चुके हैं। इसके साथ ही हर्ष ने कई डिजिटल चैनल्स पर जमीन पर उतरकर रिपोर्टिंग भी की है।