क्या आपको पता है Pan card के इन दो विकल्पों के बारे में? आइए जानते हैं

pan-card

Pan card: पैसों के संचालन के लिए पैन कार्ड की जरुरत पड़ती है और आज भी बड़ी संख्या में लोग इसके बारे में नहीं जानते हैं। किसी भी बड़े लेन-देन में इसका उपयोग होता है। क्या आप जानते हैं की पैन कार्ड बनवाते समय कुछ खास बातों का ध्यान रखना होता है, चलिए बताते हैं की किन बातों का ख्याल रखने से आपको आगे चलकर दिक्कत नहीं आएगी।

पैन कार्ड

पैन कार्ड आयकर विभाग की ओर से जारी किया जाता है, इसमें एक यूनीक नंबर लिखा होता। इसमें नंबर और एल्फाबेट दोनों होते हैं। जैसे की RAH690BQ, ऐसे ही अंक आपके पैन कार्ड पर भी होंगे। ये सभी के लिए अलग-अलग होते हैं।

दो विकल्प

पैन कार्ड बनवाते समय आपके पास दो विकल्प होते हैं, पहला विकल्प ये की आपका पैन कार्ड आपके घर पर पोस्ट के माध्यम से डिलीवर कर दिया जाएगा। और दूसरा ये की एक ऑनलाइन कॉपी आपके मेल पर भेज दी जाएगी। ऑनलाइन कॉपी आपको दोनों ही विकल्पों में मिल जाएगी, चाहे वो डिलीवरी हो या फिर नहीं। डिलीवरी वाले पैन कार्ड के लिए 107 रुपये का चार्ज लगता है।

ये भी पढ़ें: नए इंजन और डिजाइन के साथ लॉन्च हुई Hero Xtreme Plus, जानें कीमत

खुद भी कर सकते हैं अप्लाई

पैन कार्ड बनवाने के लिए आपको किसी के पास जाने की जरुरत नहीं है, आप खुद भी इसे अप्लाई कर सकते हैं। इसके लिए nsdl की वेबसाइट पर जाकर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। वहीं एक टुटोरिअल भी मिल जाएगा, जो पूरी जानकारी के साथ आता है।

इस बात का रखें ख्याल

जब आप खुद पैन कार्ड अप्लाई करें तो ध्यान रहे की आधार कार्ड में जानकारी सही हो, क्योंकि सारी डिटेल्स वहीं से ली जाती है। जो पता आधार कार्ड में होगा, पैन कार्ड भी वहीं पर डिलीवर किया जाएगा।

हर्ष पिछले 4 सालों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रहे हैं। मूल रूप से हर्ष गोरखपुर के रहने वाले हैं। हर्ष इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के साथ साथ डिजिटल मीडिया का भी अनुभव रखते हैं फिलहाल समाचार नगरी में बिजनेस बीट पे काम कर रहे है। हर्ष बिजनेस के अलावा एंटरटेनमेंट, पॉलिटिकल, लेटेस्ट न्यूज, वायरल के साथ साथ धर्म बीट पर काम कर चुके हैं। इसके साथ ही हर्ष ने कई डिजिटल चैनल्स पर जमीन पर उतरकर रिपोर्टिंग भी की है।