अगर आपके पास भी है कार तो चेक कर ले PUC, नहीं तो भरना होगा तगड़ा जुर्माना

puc-in-vehicle

पॉल्यूशन अंडर कंट्रोल’ या PUC एक जरूरी दस्तावेज है। कार या बाइक चालक के पास यह हमेशा होना चाहिए। पीयूसी दस्तावेज इस बात का प्रमाण करता है कि वाहन का उत्सर्जन स्तर (Emission Level) तय मानकों से कम है। आसान शब्दों में समझें तो यह चेक करता है कि यदि वाहन एक सीमा से ज्यादा प्रदूषण तो नहीं कर रहा।

वाहन चलाते समय आपके पास लाइसेंस, बीमा और आरसी हो, पर पीयूसी प्रमाणपत्र नहीं है, तो आपका चालान कट सकता है। दिल्ली में बिना पीयूसी के यात्रा करने वालों पर 10,000 रुपये या उससे अधिक का जुर्माना भी लगाया जा सकता है।

आप सरकार द्वारा अधिकृत प्रदूषण परीक्षण केंद्र जाएं और वाहन का प्रदूषण टेस्ट करा लें। वहां आपके वाहन के साइलेंसर में एक छड़ी जैसा उपकरण डाला जाएगा और इंजन चालू करने के लिए कहा जाएगा। इस तरह प्रदूषण लेवल की जांच की जाती है। एक बार परीक्षण हो जाने के बाद, पीयूसी की सर्टिफिकेट दे दिया जाता है। आप चाहें तो इसे ऑनलाइन डाउनलोड कर सकते हैं। सरकार वाहन मालिकों को अपना पीयूसी ऑनलाइन डाउनलोड करने का एक आसान तरीका देती है।

सबसे पहले, आपको परिवहन सेवा वेबसाइट पर जाना होगा। वहां आपको टैब पर एक PUC का विकल्प दिखाई देगा। इस पर क्लिक करें। फिर अपने वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर और चेसिस नंबर के अंतिम पांच अंक दर्ज करने के लिए कहा जाएगा। साथ ही आपको कैप्चा कोड डालना होगा।

एक बार सबमिट करने के बाद आप अपने पीयूसी का स्टेटस देख सकेंगे। यदि यह अभी भी वैलिड है तो पीयूसी को डाउनलोड किया जा सकता है। यदि आपने इसके लिए आवेदन किया है, तो यह आपके आवेदन की स्थिति भी दिखाएगा और एक बार पीयूसी उपलब्ध हो जाने के बाद, इसे डाउनलोड और प्रिंट कर रख सकतें हैं।

सुप्रिया राज को मीडिया छेत्र में लगभग दो सालो का अनुभव है। सुप्रिया दैनिक भास्कर में बतौर एंटरटेनमेंट न्यूज़ कंटेंट राइटर के रूप में काम किया है, उसके बाद कई सारे मीडिया हाउस में फ्रीलान्स भी किया किया है। फरवरी 2023 से समाचार नगरी के साथ जुडी है और यहां (एंटरटेनमेंट, धर्म/अध्यात्म, ज्योतिष, गैजेट, और ऑटो) की खबरों पर काम कर रही हैं। सुप्रिया राज का मकसद लोगों तक बेहतरीन हिंदी स्टोरी पहुंचाना है।