नई दिल्ली: सॉफ्टवेयर कंपनी एडोब इंक के सह-संस्थापक चार्ल्स ‘चक’ गेश्के (Charles ‘Chuck’ Geschke) का 81 साल की उम्र में देहांत हो गया है। चार्ल्स गेश्के ने पोर्टेबल डॉक्यूमेंट फॉर्मेट तकनीक विकसित की थी। गेश्के, लॉस अल्तोस के सैन फ्रांसिस्को बे एरिया उपनगर में रहते थे। कंपनी की तरफ से जारी किए गए बयान में बताया गया है कि चार्ल्स गेश्के ने शुक्रवार को दुनिया को अलविदा कह दिया।

एडोब के सीईओ शांतनु नारायण ने कंपनी के कर्मचारियों को एक ईमेल लिखा। जिसमें उन्होंने ये दुख भरी जानकारी शेयर की। शांतनु के ईमेल के मुताबिक,’यह पूरे एडोब समुदाय और प्रौद्योगिकी उद्योग के लिए एक बहुत बड़ी क्षति है, जिसके लिए वह दशकों से मार्गदर्शक और नायक रहे हैं।’

शांतनु ने आगे लिखा,’उनका पहला उत्पाद एडोब पोस्टस्क्रिप्ट था, जो एक नई तकनीक थी, जिसने कागज पर लिखे जाने वाले प्रिंट के लिए एक नया तरीका प्रदान किया और डेस्कटॉप जगत में क्रांति को जन्म दिया। चक ने कंपनी के लिए एक नई क्रांतिकारी तकनीक अथक ड्राइव की शुरुआत की, जिसके परिणामस्वरूप कुछ सबसे अधिक परिवर्तनकारी कौशल थे। जिसमें पीडीएफ, एक्रोबैट, इलस्ट्रेटर, प्रीमियर प्रो और फ़ोटोशॉप सहित आविष्कार शामिल हैं।’

चार्ल्स ‘चक’ गेश्के (Charles ‘Chuck’ Geschke) के निधन पर उनके घरवालों ने शोक जाहिर किया है। आपको बता दें कि उनकी पत्नी ने कहा कि,’गेश्के पर उनके परिवार को गर्व है। वह एक फेमस बिजनेसमैन के साथ-साथ एक अच्छे इंसान भी थे।

Leave a comment

Your email address will not be published.