अधीर रंजन चौधरी ने सरकार पर 26 जनवरी के लिए हुई घटना की साजिश करने का गंभीर आरोप लगाया…उन्होंने कहा कि दिल्ली में लाखों सुरक्षाकर्मियों के होने के बावजूद उपद्रवियों ने लाल किले पर ऐसा कैसे कर दिया? कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का कहना है कि रैली निकालने की इजाजत सरकार ने दी थी,फिर गड़बड़ क्यों हुई? किसानों के खिलाफ केस दर्ज करके आप आंदोलन को छल से तोड़ना चाहते हैं।

लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता और सांसद अधीर रंजन चौधरी ने भारत सरकार पर जमकर निशाना साधा इसके अलावा उन्होंने विदेशी शक्तियों के द्वारा किसान आंदोलन पर किए जाने वाले ट्वीट पर भी अपने विचार रखे। अधीर रंजन चौधरी ने कहा, “सचिन तेंदुलकर लता मंगेशकर जैसी हस्तियों को गुमराह किया जा रहा है। क्या हमारा देश इतना कमजोर है कि विरोध करने वाले किसानों के पक्ष में बोलने के लिए 18 साल की लड़की को दुश्मन माना जा रहा है।”

अधीर रंजन चौधरी ने भारत सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा, “रैली निकालने की इजाजत आपके द्वारा दी गई थी फिर गड़बड़ी क्यों हुई? हमें आज तक यह स्पष्ट रुप से जानकारी ही नहीं है, किसानों के खिलाफ केस दर्ज कर आप आंदोलन को छल से तोड़ना चाहते हैं। षड्यंत्र कारी किसान नहीं बल्कि लाल किले पर झंडा फहराने वाले सरकार के नुमाइंदे हैं। आप सीसीटीवी हमें दिखाओ यह कोई और नहीं बल्कि आप के लोग हैं। आप आंदोलनकारी किसानों को फंसा रहे हैं।” अधीर रंजन चौधरी ने छब्बीस जनवरी पर दिल्ली में हुई घटना का सीधा आरोप सरकार पर लगा दिया उनका कहना है कि दिल्ली में लाखों सुरक्षाकर्मी होने के बाद यह घटना कैसे घटित हुई?

अधिर रंजन चौधरी ने कहा, “किसानों की दुर्दशा और बर्बादी हमसे सहन नहीं होती। इसीलिए हम सदन में चिल्लाते हैं,शोर मचाते हैं, किसानों की बात पूरी करो…आपकी पार्टी के सांसदों की तरफ से भी मैं अपील करता हूं कि आप सभी किसानों की बात करिए। किसान हमारा अन्नदाता है ऐसी कार्यवाही की जा रही है जैसे किसान हमारा दुश्मन है।

Leave a comment

Your email address will not be published.