Deheradun: हरिद्वार में हो रहे कुम्भ से मंगलावार को कोरोनावायरस के 594 नए मामले दर्ज किए गए. इसके साथ ही शहर में सक्रिय मरीजों की संख्या 2,812 पहुंच गई. सोमवार को हरिद्वार में 408 कोरोना के नए मरीज सामने आए थे. वहीं पूरे उत्तराखंड की बात करें तो पिछले 24 घंटे में 1925 मामले और 13 मौत दर्ज की गईं. बता दें, हरिद्वार में इस वक्त महाकुंभ चल रहा है. जहां एक ओर कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने देश में कहर मचाया हुआ है, वैक्सीन और अस्पतालों में बेड की कमी पड़ रही है, वहीं दूसरी ओर हरिद्वार में काफी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं. एक महीने तक चलने वाले कुंभ मेले में करीब दस लाख लोग हिस्सा लेंगे. लोगों की भीड़ काफ़ी मात्रा में जमा रहता है.

सोमवार को कुम्भ में शामिल हुए लोग शाही स्ना करते हैं. इस मौके पर करीब एक लाख लोगों ने गंगा नदी में डुबकी लगाई. इस दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी कोविड नियमों का उल्लंघन देखने को मिला. जहां लोगों की काफ़ी भीड़ देखने को मिली और लोग वहां पर बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए दिखे. जिससे Covid-19 का खतरा और बढ़ गया.

अगर पूरे देश में कोरोना का कहर देखा जाए तो, हर रोज 1.5 लाख से ज्यादा कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं. श्रद्धालुओं के साथ ही 13 अखाड़ाओं से जुड़े हजारों की संख्या में साधु भी कुंभ पहुंचे हैं. कुंभ में पहुंचने वाले ज्यादत्तर लोगों का कहना है कि कोरोना कोई बड़ी चिंता की बात नहीं है, क्योंकि उत्तराखंड सरकार ने आरटी-पीसीआर को सबके लिए अनिवार्य कर दिया है. महाकुंभ में श्रद्धालुओं से ‘दवाई और कड़ाई’  का पालन करने के पोस्टर देखने को मिले और कोविड-19 नियमों के उल्लंघन के खिलाफ हर घाट पर चेताया जा रहा है. कई श्रद्धालुओं का कहना कि मेले में इन दिशा निर्देशों का पालन और सोशल डिस्टेंसिंग रखना मुश्किल है पर हम अपनी ओर से पूरी कोशिश कर रहे हैं कि लोग नियमों का पालन करे.

Leave a comment

Your email address will not be published.